..तो नाराज हैं RCP सिंह? उपेन्द्र कुशवाहा आज पटना में JDU का थामेंगे दामन तो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिल्ली में हैं मौजूद

..तो नाराज हैं RCP सिंह? उपेन्द्र कुशवाहा आज पटना में JDU का थामेंगे दामन तो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिल्ली में हैं मौजूद

पटनाः उपेन्द्र कुशवाहा आज से जेडीयू के हो जायेंगे। RLSP का आज जेडीयू में विलय हो जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में उपेन्द्र कुशवाहा जेडीयू का दामन थामेंगे। इस दौरान जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष को छोड़ अन्य सभी नेता मौजूद रहेंगे। बताया जाता है कि उपेन्द्र कुशवाहा के जेडीयू में शामिल कराने के निर्णय से आरसीपी सिंह थोड़े असहज हैं लिहाजा उन्होंने मिलन कार्यक्रम से अपने आप को अलग रखने का निर्णय लिया है।

आरसीपी सिंह कार्यक्रम में नहीं होंगे शामिल

बड़ी खबर निकल सामने आ रही है कि जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह आज के कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह दिल्ली में हैं और आज उनके आने का कोई कार्यक्रम भी नहीं है। लिहाजा राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह की गैरमौजूदगी में उपेन्द्र कुशवाहा अपनी पार्टी आरएलएसपी का जेडीयू में विलय करेंगे। हालांकि बताया गया है कि संसद सत्र चलने की वजह से वे दिल्ली में हैं। सूत्रों के मिली जानकारी के अनुसार उपेन्द्र कुशवाहा को जेडीयू में लेने के निर्णय से आरसीपी सिंह आहत हैं। लिहाजा उन्होंने अपने आप को आज के कार्यक्रम से अलग रखा है। जो जानकारी है उसके अनुसार आरसीपी सिंह आरएलएसपी के विलय के पक्ष में नहीं थे। इसी वजह से कुशवाहा के जेडीयू में शामिल होने का मसला पिछले 2 महीनों से टल रहा था। अंततः मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस प्रस्ताव पर सहमति  दे दी इसके बाद आज आरएलएसपी का जेडीयू में विलय होगा। 

जेडीयू प्रदेश कार्यालय में मिलन समारोह

 इधऱ,शनिवार को कुशवाहा की मौजूदगी में रालोसपा की बैठक हुई। RLSP की राज्य परिषद ने विलय पर फैसले के लिए राष्ट्रीय परिषद को अधिकृत कर दिया। शनिवार की शाम उपेन्द्र कुशवाहा ने मुख्यमंत्रई आवास जाकर नीतीश कुमार से मुलाकात भी की थी। बताया गया है कि  आज जेडीयू प्रदेश कार्यालय में 2 बजे मिलन समारोह है। जिसमें उपेन्द्र कुशवाहा अपनी पार्टी का विलय करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद रहेंगे।

कई छोटे नेताओं-कार्यकर्ताओं के मिलन समारोह में शामिल हो चुके हैं आरसीपी सिंह 

 बता दें, आरसीपी सिंह जब से राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं तब से अब तक प्रदेश कार्यलाय में कई छोटे-बड़े मिलन समारोह में शामिल हो चुके हैं। कुछ दिन पहले ही लोजपा के 100 से अधिक छोटे नेताओं-कार्यकर्ताओं को पार्टी में शामिल कराया था। इसके बाद भी विश्वकर्मा समाज और सवर्ण समाज से जुड़े सैकड़ों को जेडीयू में शामिल करा चुके हैं। ऐसे में आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा जब जेडीयू में शामिल हो रहे ऐसे में उनका पटना की बजाए दिल्ली में रहने पर सवाल खड़े हो रहे हैं। जानकार बताते हैं कि आरसीपी सिंह उपेन्द्र कुशवाहा को दल में लेने के निर्णय से असहज हैं। 

बता दें, जेडीयू के प्रदेश कार्यालय में कुछ दिन पहले कुशवाहा के एक नेता की तरफ से भोज का आयोजन किया गया था। उस भोज में इस समाज के कई बड़े नेता शामिल हुए थे। इसकी जानकारी नेतृत्व को थी लेकिन उन्होंने इसे नहीं रोका। जब तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हुई इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस बारे में जानकारी हुई। इसके बाद भोज का आयोजन करने वाले पूर्व विधायक की जमकर क्लास भी लगी थी। दरअसल उपेन्द्र कुशवाहा की इंट्री बंद कराने को लेकर जेडीयू के भीतर एक गुट काम कर रहा था। एक पक्ष यह नहीं चाह रहा था कि कुशवाहा की इंट्री हो। इसको लेकर लॉबिंग की जा रही थी। 



Find Us on Facebook

Trending News