...तो CM नीतीश ने हवाबाज को बनाया था उद्योग मंत्री ? ललन सिंह ने 'शाहनवाज' को बताया 'हवाबाज नेता', वैसे JDU अध्यक्ष से पहले ही 'हुसैन' लोस चुनाव जीते...फिर केंद्रीय मंत्री बने

...तो CM नीतीश ने हवाबाज को बनाया था उद्योग मंत्री ? ललन सिंह ने 'शाहनवाज' को बताया 'हवाबाज नेता', वैसे JDU अध्यक्ष से पहले ही 'हुसैन' लोस चुनाव जीते...फिर केंद्रीय मंत्री बने

PATNA: जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह मोकामा के अपने धुर विरोधी रहे बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के चुनाव प्रचार में उतर गये हैं. उप चुनाव में राजद कैंडिडेट नीलम देवी के पक्ष में ललन सिंह ने रोड-शो किया है. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने एक बार फिर से विरोधियों के खिलाफ आग उगला है। इस बार ललन सिंह के निशाने पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता व नीतीश कैबिनेट के सबसे चर्चित मंत्री रहे शाहनवाज हुसैन रहे. शाहनवाज हुसैन व नीतीश कुमार दोनों बाजेपयी कैबिनेट में मंत्री थे। बिहार कैबिनेट में उद्योग मंत्री के रूप में काम कर रहे शाहनवाज हुसैन के बारे में खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तारीफों के पुल बांधते थे. अब उनकी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह उन्हें हवा-हवाई नेता करार दिया है। बीजेपी ने ललन सिंह पर तंज कसते हुए कहा कि जेडीयू के जो राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं उनकी राजनीतिक कैरियर 2000 से शुरू हुई,जब वे राज्यसभा सदस्य बने थे. वहीं ललन सिंह जिसे हवा-हवाई नेता बता रहे वे जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष से पहले ही 1999 में लोकसभा का चुनाव जीतकर केंद्रीय मंत्री बने थे। जबकि ललन सिंह को अब तक केंद्रीय मंत्री बनने का अवसर नहीं मिला।

शाहनवाज हुसैन हवाबाज नेता हैं-ललन 

मोकामा उप चुनाव के प्रचार में कूदे ललन सिंह ने बीजेपी पर बड़ा निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि मोकामा और गोपालगंज में कोई लड़ाई है क्या....पत्रकारों से कहा कि आप जो यह सवाल जवाब पूछ रहे हैं?  आप को बुझा रहा है कि कोई लड़ाई है? मोदी की आंधी पता चल जाएगा 6 तारीख को...। भाजपा वाले 40 क्या 80 स्टार प्रचारक लाएँ उससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. ललन सिंह ने आगे कहा कि ...छोड़िए न शाहनवाज हुसैन को, पुराना हवाबाज हैं उनका काम ही है हवाबाजी करना. खाली हवाबाजी से नहीं होता है . जनता का समर्थन ...और धरातल पर महागठबंधन के पक्ष में जनता का अपार समर्थन है. अभी तो हम मोकामा घूम रहे हैं .खासकर मोकामा में हम आज आपको बता दे रहे हैं, 6 तारीख को गिनती होगी और मोकामा का सारा रिकॉर्ड टूटेगा.

ललन सिंह से काफी पहले चुनाव जीतकर लोस पहुंचे और केंद्रीय मंत्री बने थे शाहनवाज हुसैन 

बीजेपी प्रवक्ता ड़. निखिल आनंद ने ललन सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि वे सात जन्म में शाहनवाज हुसैन की बराबरी नहीं कर सकते. बीजेपी के वरिष्ठ नेता शाहनवाज हुसैन 1999 में पहली दफे लोकसभा का चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे। इसके बाद 2006, 2009 में भी चुनाव जीते. वाजपेई सरकार में खाद्ध प्रसंस्करण और नागरिक उड्डयन मंत्रालय का जिम्मा भी संभाल चुके हैं. वहीं 2021 में बिहार बिधानपरिषद सदस्य बने और फिर नीतीश कैबिनेट में उद्योग मंत्री । वहीं जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पहली दफे 2000 में राज्यसभा भेजे गये. इसके बाद 2004 में लोकसभा का चुनाव जीतकर संसद पहुंचे. 2009 में भी लोस का चुनाव जीते लेकिन 2014 में हार गये.लोस चुनाव हारने के बाद नीतीश कुमार ने बिहार विधान परिषद भेजा. फिर बिहार कैबिनेट में जलसंसाधन मंत्री बने। 2019 में बीजेपी से जेडीयू का गठबंधन था तो मुंगेर लोकसभा का चुनाव जीतकर सांसद बने। वैसे ललन सिंह को अब तक केंद में मंत्री बनने का सौभाग्य नहीं मिला है। 


Find Us on Facebook

Trending News