सोशल मीडिया पर तेजस्वी ने मेवलाल पर हमला बोला तो मंत्री ने भी ललकारा, जानिए क्या कहा

सोशल मीडिया पर तेजस्वी ने मेवलाल पर हमला बोला तो मंत्री ने भी ललकारा, जानिए क्या कहा

पटना... बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री बनाए गए मेवालाल चौधरी पर महागठबंधन लगातार हमलावर बनी हुई है। मेवालाल चौधरी को भ्रष्टाचारी बताकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर तंज कसा तो मेवालाल ने भी अब पलटवार करते हुए कहा है कि सामने राउंड टेबल पर आकर तेजस्वी यादव मुझसे जिरह करें। इधर, जेडीयू के प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि तेजस्वी यादव को बोलने का कोई हक नहीं है, पहले वो अपने गिरेबां में झांके। 

तेजस्वी यादव ने साधा निशाना

महागठबंधन के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाए जाने को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा है। तेजस्वी ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति और भवन निर्माण में भ्रष्टाचार के गंभीर मामलों के आरोपी को शिक्षा मंत्री बनाया है। उन पर आईपीसी की धारा 409,420,467, 468,471 और 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज है। राज्य सरकार से सवाल पूछा कि क्या मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाकर क्या भ्रष्टाचार करने का इनाम और लूटने की खुली छूट दी गई है।  


मेवालाल का तेजस्वी यादव पर हमला
शिक्षा मंत्री डा. मेवालाल चौधरी ने कहा है कि मुझ पर लगे सारे आरोप निराधार हैं। मैं चार्जशीटेड नहीं हूं। सारा मामला कोर्ट में है। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव द्वारा उनको लेकर दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि इल्जाम लगाने वाले जेल के अंदर हैं या जेल के मुहाने पर खड़े हैं। बिहार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति रहे श्री चौधरी ने कहा कि बातें सकारात्मक होनी चाहिए। सामने राउंड टेबुल पर आकर तेजस्वी या कोई भी शिक्षा पर मुझसे जिरह करे। बिहार में कैसे क्लासरूम टीचिंग और बेहतर किया जाय, कैसे शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर करें, इसके लिए क्या-क्या किया जाय, इन बिंदुओं पर सलाह दें। बताया कि वे गुरुवार को शिक्षा मंत्री का पदभार ग्रहण करेंगे। 

तेजस्वी को बोलने का हक नहीं : संजय सिंह

जेडीयू के प्रदेश प्रवक्ता ने भी तेजस्वी यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें मेवालाल पर आरोप लगाने का कोई हक नहीं है। मेवालाल चौधरी पर हमला करने से पहले तेजस्वी यादव खुद अपने गिरेबां मे झांके। किसी दूसरे के मामले में सवाल न उठाएं तेजस्वी। किसी को जब कोई जिम्मेदारी मिलती है तो वो पूरी जांच पड़ताल के बाद ही मिलती है। नीतीश कुमार कल भी जीरो टॉलरेंस को लेकर संकल्पित थे, आज भी हैं। 

 

Find Us on Facebook

Trending News