बांका में बदमाशों के हवस की शिकार मासूम के परिजनों से मिली सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना, थाना जाकर ली मामले की जानकारी

बांका में बदमाशों के हवस की शिकार मासूम के परिजनों से मिली सामाजिक कार्यकर्ता योगिता भयाना, थाना जाकर ली मामले की जानकारी

BANKA : होली के दिन 8 वर्षीय मासूम बच्ची से दुष्कर्म कर निर्मम हत्या के मामले में एफएसएल जांच में रेलवे पुलिस गार्ड की गिरफ्तारी के बाद फिर से ग्रामीणों में आक्रोश पैदा हो गया है। जिसको देखते हुए परी संस्था के फाउंडर योगिता भयाना अपने कार्यकर्ताओं के साथ पीड़ित परिवार से मिलकर आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने का आश्वासन दिया। परी कार्यकर्ता एवं ग्रामीणों  के साथ मासूम बच्ची को न्याय दो, आरोपियों को फांसी दो का नारा लगाते हुए चांदन थाना पहुंचकर पुलिस से इस केस के बारे में जानकारी हासिल किया। 


मालूम हो कि 19 मार्च को एक और जहां बांका जिलेवासी रंगो का त्यौहार मना रहे थे, वहीं दूसरी ओर चांदन थाना क्षेत्र में दरिंदों की वजह से बांका शर्मसार हो रहा था। दरअसल आरोपियों ने 8 साल की बच्ची को अगवा कर उसके साथ गैंग रेप कर निर्मम हत्या कर रेलवे ट्रैक नाले में छुपा दिया था। जिसके बाद पुलिस प्रशासन ने शव को बरामद किया था। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने चांदन, कटोरिया, देवघर एवं अन्य शहरों में भी जमकर बवाल किया था। वहीं सड़क जाम कर आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग रखी थी। जिस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए चानन थाना में नामजद चार आरोपियों को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद माहौल कुछ शांत हुआ था। 

योगिता भयाना मासूम बच्ची के साथ इस तरह शर्मसार कर देने वाली घटना को लेकर पटना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास अपने कार्यकर्ता एवं मृतिका के परिजनों के साथ बच्ची को न्याय दिलाने के लिए मिलने भी गई थी, लेकिन मुख्यमंत्री से मुलाकात नहीं हो सका था। उसके बाद तबसे योगिता भयाना मृत बच्ची के परिजनों से हमेशा टेलीफोन के माध्यम से आश्वासन देते रहे हैं और बांका जिला के हर अधिकारी से इस केस के बारे में जानकारी हासिल कर रहे हैं। ताकि इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को सिर्फ और सिर्फ फांसी की सजा मिले। 

मौके पर मौजूद परी संस्था के फाउंडर योगिता भयाना के साथ ब्रह्म प्रकाश ठाकुर जिला निदेशक बांका, प्रिया मिश्रा जिला कोऑर्डिनेटर, भाजपा नेता हरे कृष्ण पांडेय, ग्रामीण प्रभात पांडेय, उप मुखिया संजीव पोद्दार, वार्ड सदस्य तरुण कुमार दुबे, यमुना पोद्दार, आसीन अंसारी, सरफुद्दीन अंसारी, केशव बरनवाल, सुमन पोद्दार, मनोज तिवारी, प्रिंस प्रकाश मोदी, बजरंग दल से गौरव कुमार, चंदन यादव एवं सैकड़ों  महिला पुरुष मौजूद थे।

बांका से चन्द्रशेखर कुमार भगत की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News