BIG BREAKING : सन्नी देओल और प्रियंका चोपड़ा का बेटा बेतिया से दे रहा इंटर का परीक्षा,कॉपी जांच रहे शिक्षक का उतरा पसीना

BIG BREAKING : सन्नी देओल और प्रियंका चोपड़ा का बेटा बेतिया से दे रहा इंटर का परीक्षा,कॉपी जांच रहे शिक्षक का उतरा पसीना

BETTIYA : बिहार में इंटरमीडियट के छात्र ने मुगलकालीन दौर में हटाए गए जजिया कर से जुड़े इतिहास को ही बदल कर दिया है। छात्र ने परीक्षा में पूछे गए सवाल के जवाब में लिखा है कि अकबर की गर्लफ्रेंड का नाम रजिया था, उनके कहने पर उसने जजिया कर हटा दिया था। इस तरह के और अनोखे जवाब छात्र ने उत्तर पुस्तिका में दिया है, जिसे पढ़कर हंसी रोक पाना मुश्किल हो जाएगा।

मामला पश्चिम चंपारण के बेतिया स्थित राम लखन सिंह यादव महाविद्यालय से जुड़ा है। यहां इंटरमीडियट की सेंटअप परीक्षा आयोजित किया गया। इस परीक्षा में एक छात्र ने शरारत करते हुए पूछे गए सवालों के मजेदार तरीके से उत्तर दिये हैं। बाद में यह कापी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गई। लोग इस पर खूब कमेंट कर रहे हैं। इसका अानंद ले रहे हैं। दूसरों को फारवर्ड भी कर रहे हैं।

खुद को बताया सन्नी देओल और प्रियंका चोपड़ा का बेटा

छात्र ने शरारतन अपनी मां का नाम प्रियंका चोपड़ा और पिता का नाम सनी देओल लिख दिया। उस परीक्षार्थी की शरारत का अंत वहीं पर नहीं हुआ। परीक्षा के दौरान एक सवाल पूछा गया था कि वह पुरातत्व से क्या समझता है। उसने लिख दिया कि यह मेरे मास्टर ने नहीं पढ़ाया है, मैं पुरातत्व से कुछ नहीं समझता हूं।

अकबर ने जजिया कर क्यों हटाया

परीक्षा में एक सवाल था कि अकबर ने जजिया कर क्यों हटाया, जिसके उत्तर में परीक्षार्थी ने लिखा कि अकबर की गर्लफ्रेंड का नाम रजिया था, रजिया के कहने पर ही उन्होंने जजिया कर हटा दिया था। 

मोहनजोदाड़ो के स्नानागार का वर्णन कीजिए

परीक्षार्थी ने मोहन जोदाड़ों के विशाल स्नानागार का भी मजेदार ढंग से जवाब दिया है। उसने लिखा है कि इस स्नानागार में राजा की पत्नी छपाक-छपाक कर नहाती और अपने कपड़े साफ करती थी।

कॉलेज की हो रही है किरकिरी

बहरहाल, कालेज प्रशासन को काफी किरकिरी का सामना करना पड़ रहा है। कॉलेज प्रशासन ने घटना की जानकारी होने के बाद जांच शुरू कर दी है कि आखिर कापी इंटरनेट मीडिया तक कैसे पहुंची? अब खुद को बचाने के उपाय में कालेज प्रशासन लग गया है। 

लोग उठा रहे हैं सवाल

छात्र का उत्तर पुस्तिका अब वायरल हो गया है। लोग न सिर्फ इस पर मजेदार कमेंट कर रहे हैं,बल्कि मनोरंजन की बात से इतर कुछ लोग इस घटना को सूबे की शिक्षा व्यवस्था को आईना दिखाने वाला बता रहे हैं। उनका मानना है कि जब बच्चों को पढ़ाया नहीं जाएगा और केवल परीक्षा ली जाएगी तो इस तरह की घटनाएं तो होंगी हीं।

नोट – न्यूज4नेशन इस समाचार की पुष्टि नहीं करता है, यह सिर्फ सोशल मीडिया से मिली जानकारी के आधार पर प्रकाशित की गई है। 




Find Us on Facebook

Trending News