खूब सोने पर यह यहां मिलेंगे 13 लाख, डॉक्टर्स भी करेंगे देखभाल

खूब सोने पर यह यहां मिलेंगे 13 लाख, डॉक्टर्स भी करेंगे देखभाल

न्यूज़ 4 नेशन डेस्क : अगर आपको नींद बहुत आती है और आप इसकी वजह से किसी भी काम में पीछे छूट जाते हैं तो ये खबर पढ़िए. अब नासा सोने के लिए लाखों में रूपये देगा, वो भी एक या दो लाख नहीं बल्कि 13 लाख रुपये मिलेंगे. आप सोच रहे हैं कि मंहगाई के इस जमाने में कोई क्यों सोने के पैसे देगा, यह बात सुन कर आपको अजीब भले लग सकता है पर यह पूरी तरह से सच है.

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (ESA) के साथ मिलकर आर्टिफिशियल ग्रेविटी में सोने पर एक रिसर्च  करेगी. जिसके लिए उन्हें ऐसे लोगों की तलाश हैं जो आर्टिफिशियल ग्रेविटी से जुड़ी रिसर्च के दौरान 2 महीने तक बेड पर रहे. इस रिसर्च के लिए 12 पुरुषों और 12 महिलाओं की तलाश है, जिनकी उम्र 24 साल से 55 साल के बीच हो. जो भी लोग इसमें सम्मलित होते हैं उन्हें इसके बदले 18500 अमेरिकी डॉलर यानी 12.81 लाख रूपये मिलेंगे. 

आर्टिफिशियल ग्रेविटी बेड रेस्ट स्टडी कोलोन के जर्मन एयरोस्पेस सेंटर (DLR) में  होगी. इसमें चुने गए लोगों की नींद के अलावा हर गतिविधि पर ध्यान दिया जाएगा. जिसमें प्रयोग, परीक्षण, भोजन आदि शामिल है. अध्ययन के दौरान, स्वयंसेवकों को किसी भी तरह के परिश्रम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. उन्हें पूरे समय में निगरानी में रखा जाएगा. जहां  मांसपेशियों की शक्ति, संतुलन और हृदय से जुड़ी एक्टिविट पर पूरा ध्यान दिया जाएगा. इसी के अलावा पूरी टीम चुने गए लोगों को सपोर्ट करेगी. जिसमें उनकी सेहत का पूरा ध्यान रखा जाएगा. वहीं रिसर्च पूरी होने के बार वैज्ञानिक डेटा को जारी करेंगे साथ ही बताएंगे ये रिसर्च कैसे अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में मदद कर सकती है. 

अगर यह रिसर्च सफल होती है तो  इसका मतलब है कि नासा वास्तव में आईएसएस के लिए एंटीग्रेविटी उपकरणों को विकसित करने और विशेष रूप से अंतरिक्ष यान के लिए मंगल जैसे दूर के स्थानों पर पैसा खर्च कर सकता है.  बहुत कम से कम तब, उन अंतरिक्ष यात्रियों को शारीरिक रूप से स्वस्थ किया जाएगा.


Find Us on Facebook

Trending News