मानसून सत्र को लेकर विशेष तैयारी : प्रतिबंधित क्षेत्र में नहीं पहुंच पाएंगे प्रदर्शनकारी, सत्र समाप्ति के बाद ही स्थल से जाएंगे अफसर

मानसून सत्र को लेकर विशेष तैयारी : प्रतिबंधित क्षेत्र में नहीं पहुंच पाएंगे प्रदर्शनकारी, सत्र समाप्ति के बाद ही स्थल से जाएंगे अफसर

PATNA : कल यानि 28 जून से बिहार विधान सभा का मानसून सत्र की शुरुआत होने जा रही है। यह मानसून सत्र 28 जून से 26 जुलाई तक चलेगा। सत्र के दौरान किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किये गय़े है।

सत्र के दौरान पटना में होने वाले प्रदर्शन और धरना को ध्यान में रखते हुए डीएम कुमार रवि ने विशेष बैठक बुलाई थी। इस बैठक में पटना एसएसपी समेत सभी प्रशासनिक और पुलिस के अधिकारी मौजूद रहे। 

जिलाधिकारी कुमार रवि और एसएसपी गरिमा मलिका ने विधानसभा परिसर में अफसरों को उनकी ड्यूटी बताई। प्रतिबंधित क्षेत्र में किसी प्रकार का प्रदर्शन या सभा का आयोजन नहीं किया जाए। इस क्षेत्र में पूर्ण शांति बनी रहे। इस पर ध्यान रखना होगा। विधान मंडल में प्रतिनियुक्त किए गए अफसर सत्र खत्म होने के बाद ही ड्यूटी से वापस जाएंगे।

डीएम ने कहा है कि विधान मंडल भवन के मुख्य द्वार पर विधानसभा सदस्यों के पहचानने एवं आगंतुक की चेकिंग की जिम्मेदारी सुरक्षा प्रभारी को दी है। यहां शस्त्र के साथ अंदर प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। 

उन्होंने कहा है कि सचिवालय, विधानसभा, विधान परिषद क्षेत्र में बिना प्रवेश पत्र के किसी भी व्यक्ति और वाहन का प्रवेश नहीं होगा। वहीं  सिवल सर्जन को गर्दनीबाग धरनास्थल पर नियंत्रण कक्ष में दवा, चिकित्सक, चिकित्सा दल के साथ एंबुलेंस की व्यवस्था करने को कहा है।

Find Us on Facebook

Trending News