सृजन घोटाले में सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, बिहार के एक IAS अधिकारी समेत 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट

सृजन घोटाले में सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, बिहार के एक IAS अधिकारी समेत 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट

PATNA: बिहार की बहुचर्चित सृजन घोटाला मामले में सीबीआई ने सबसे बड़ी कार्रवाई की है।सीबीआई ने एक आईएएस अधिकारी पर चार्जशीट किया है।

भागलपुर के तत्कालीन डीएम वीरेंद्र यादव समेत कुल 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। वीरेंद्र यादव 2004 बैच के आइएएस अधिकारी हैं।वे वर्तमान में पिछड़ा वर्ग और अति पिछड़ा वर्ग विभाग में विशेष सचिव के पद पर पदस्थापित हैं। जानकारी के अनुसार, सृजन घोटाला मामले में आज दिल्ली सीबीआई ने बुधवार को 10 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है. चार्जशीट दायर किए गए इन 10 लोगों में भागलपुर के पूर्व डीएम वीरेंद्र प्रसाद यादव भी शामिल हैं। 

दो दिन पहले भी सीबीआई ने इस मामले में कई बैंक अधिकारियों समेत कुल 27 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी।अब एक बार फिर से तत्कालीन डीएम समेत 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है।

2 दिन पहले इन लोगों के खिलाफ दाखिल हुई थी चार्जशीट 

  जन महिला विकास सहयोग समिति बैंकिंग संस्थान की तत्कालीन प्रबंधक सरिता झा,सृजन संस्थान की तत्कालीन सचिव रजनी प्रिया,सृजन की पूर्व संयोजक मनोरमा देवी के पुत्र अमित कुमार, मनोरमा के सहयोगी रहे नालू परिमल राजू एवं विपिन कुमार, भागलपुर स्थित इंडियन बैंक के तत्कालीन मुख्य प्रबंधक देव शंकर मिश्रा, तत्कालीन सहायक प्रबंधक प्रवीण कुमार, राम कृष्ण झा, दिनकर टिग्गा, हरेकृष्ण अड़क, संजीव कुमार, प्रबंधक सुमित कुमार, वरीय प्रबंधक सुरजीत राहा, प्रबंधक अशोक अस्थाना, तत्कालीन क्लर्क एजाज अहमद अंसारी व अजय कुमार पाण्डेय शामिल हैं।

इसके अलावे भागलपुर बैंक ऑफ बड़ौदा के तत्कालीन मुख्य प्रबंधक नवीन कुमार साहा, सुजीत कुमार श्रीवास्तव, प्रेम कुमार सिन्हा व सुजीत कुमार साहा, तत्कालीन संयुक्त प्रबंधक वरुण कुमार, प्रबंधक आनंद चंद्रा, शंकर प्रसाद दास व तपन कुमार दास, क्लर्क संत कुमार सिन्हा,भागलपुर स्थित उप विकास आयुक्त कार्यालय के तत्कालीन नाजिर अरुण कुमार और अमरेंद्र कुमार यादव शामिल हैं।

Find Us on Facebook

Trending News