केंद्र के वेबसाईट पर अपलोड होंगे राज्य के मातृ-शिशु मृत्यु दर के आंकड़े : मंगल पांडेय

केंद्र के वेबसाईट पर अपलोड होंगे राज्य के मातृ-शिशु मृत्यु दर के आंकड़े : मंगल पांडेय

PATNA : बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि राज्य में मातृ-शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए केंद्र सरकार ने गत माह 29 एवं 30 अक्टूबर को दिल्ली में एक वेबसाईट लांच किया है। इस वेबसाईट के माध्यम से नवजात के जन्म के अवसर पर मातृ-शिशु की होने वाली मृत्यु के कारणों को साईट पर अपलोड किया जाएगा। इसके माध्यम से मृत्यु दर में कमी लायी जा सकेगी। 

पांडेय ने कहा कि राज्य में शीघ्र इससे संबंधित आंकड़ों को अपलोड करने की प्रक्रिया शुरु कर दी जाएगी। ऐसा करने से राज्य के स्वास्थ्य महकमें में खासकर मातृ स्वास्थ्य व नवजात स्वास्थ्य के प्रति सकारात्मक बदलाव लाया जा सकेगा। वेबसाईट का नाम मैटरनल पेरिनेटल चाइल्ड डेथ सर्विलांस एंड रिस्पांस (एमपीसीडीएसआर) है, जिस पर डाटा अपलोड होगा। इसके लिए राज्य से कुछ लोगों ने लांचिंग प्रोग्राम में जाकर ट्रेनिंग प्राप्त की है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया की किस प्रकार साईट पर जानकारियां अपलोड किया जाए। जिन लोगों ने ट्रेनिंग हासिल की, उनके द्वारा राज्य में एक आनलाईन ट्रेनिंग सभी जिलों के नोडल पदाधिकारी को दी जा चुकी है। 

पांडेय ने कहा कि जब राज्य के सभी स्वास्थ्यकर्मियों को ट्रेनिंग उपलब्ध करा दी जाएगी तो वो संबंधित डाटा को संग्रह कर अपलोड करने की प्रक्रिया प्रारंभ जो मातृ नवजात को जन्म देती है उसके जन्म से 42 दिनों के भीतर होने वाली मृत्य के कारणों को अपलोड किया जाएगा। जिससे आने वाले समय में ऐसी मौत में कमी लायी जा सके। जिन लोगों ने केंद्रीय टीम से ट्रेनिंग ली उनमें एसकेएमसीएच की प्रसूती विभाग की एचओडी, पीएमसीएच की एक  एसोसिएट प्रोफेसर, एचएमआईएस (हेल्थ् मैनेजमेंट इन्फारमेशन सिस्टम), राज्य स्वास्थ्य समिति के इंचार्ज व पेडियोट्रिक से भी कुछ लोगों ने ट्रेनिंग प्राप्त की है।

Find Us on Facebook

Trending News