एसटीईटी परीक्षा उतीर्ण अभ्यर्थियों ने चलाया ट्विटर कैंपेन, जल्द नियुक्ति की मांग

एसटीईटी परीक्षा उतीर्ण अभ्यर्थियों ने चलाया ट्विटर कैंपेन, जल्द नियुक्ति की मांग

PATNA : प्रदेश के एसटीईटी परीक्षा उतीर्ण अभ्यर्थियों ने बिहार के उच्च तथा उच्चतर माध्यमिक स्कूलों ने अपनी नियुक्ति हेतु ट्विटर कैंपेन चलाया। लाखों अभ्यर्थियों ने ट्वीटर के माध्यम से बिहार सरकार के प्रति आक्रोश प्रकट किया। एसटीईटी का मुद्दा #BSTET_RESULT_AND_JOINING देश भर में ट्रेंडिंग मुद्दों में टॉप में रहा। अभ्यर्थियो ने एसटीईटी के कुछ बिषयों के रिजल्ट तुरंत जारी करने तथा शिक्षकों की नियुक्ति की मांग की ।

2019 में जारी हुई थी अधिसूचना 

बीएड उतीर्ण छात्र संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष दीपांकर गौरव ने बताया कि एसटीईटी परीक्षा का अधिसूचना 2019 में ही बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने जारी की थी । इसी परीक्षा से बिहार के हाई स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति होनी है।  कुछ विषयों का रिजल्ट भी जारी कर दिया गया है,बावजूद  अभी तक शिक्षक नियोजन अधर में है। उन्होंने कहा की अभ्यर्थियों का सब्र का बांध टूट रहा है जिसे वे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर अपनी आक्रोश जता रहे हैं। यदि सरकार जल्द अभ्यर्थियों की मांग नही मानती तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने शिक्षा विभाग से लंबित बिषयों का भी रिजल्ट जारी कर शिक्षकों की बहाली सुनिश्चित करने की मांग की।

क्या है मामला

बिहार के प्राथमिक से लेकर +2 तक के स्कूलों में नियुक्ति हेतु पटना हाइकोर्ट ने नेशनल फेडरेशन ऑफ ब्लाइंड के याचिका पर रोक लगा रखी है। अलग अलग केसों के कारण दो सालों से बहाली रुकी है जिसके कारण सवा लाख शिक्षकों का नियोजन अधर में है।


Find Us on Facebook

Trending News