पहले चरण के चुनाव प्रचार पर लगा विराम, मांझी-पासवान समेत 44 प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर

पहले चरण के चुनाव प्रचार पर लगा विराम, मांझी-पासवान समेत 44 प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर

PATNA : लोकसभा चुनाव के पहले चरण की आठ सीटों पर चुनाव प्रचार का 5 बजे से थम गया। पहले चरण में औरंगाबाद, गया (सु), नवादा एवं जमुई (सु) सीट के लिए 11 अप्रैल को होने वाले चुनाव को लेकर प्रचार का आज अंतिम दिन था। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन आज सभी वरिष्ठ नेताओं ने अपने-अपने प्रत्य़ाशियों को जीत सुनिश्चित करने के लिए ताबड़-तोड़ रैलिया की। 

प्रथम चरण के इस चुनाव में पूर्व सीएम जीतन राम मांझी समेत कई बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगने वाली है। 

गया सीट से जहां महागठबंधन की ओर से हम प्रमुख व बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी चुनाव में मैदान में हैं। इनका सीधा मुकाबला जेडीयू के विजय मांझी से होना है। मांझी की जीत सुनिश्चित करने के लिए आज कांग्रेस के दो बड़े चेहरे राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और पिछले दिनों बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रचार किया। 

वहीं में नवादा में सीधा मुकाबला एनडीए से लोजपा प्रत्याशी पूर्व सांसद सूरजभान सिंह के भाई चंदन कुमार और राजद प्रत्य़ाशी राजबल्लभ यादव की पत्नी विभा देवी के बीच है। चंदन के पक्ष में आज रामविलास पासवान और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने आज चुनावी सभा को संबोधित किया। 

जबकि प्रथम चरण में ही जमुई और औरंगाबाद में लोजपा और बीजेपी की प्रतिष्ठा दाव पर है। जमुई से लोजपा के चिराग पासवान और औरंगाबाद से बीजेपी के सुशील कुमार सिंह चुनाव मैदान में है। दोनों वर्तमान सांसद भी है।  

इन चार लोकसभा चुनाव क्षेत्रों पर होने वाले चुनाव मैदान में कुल 44 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 70 लाख 37 हजार 966 मतदाता करेंगे। प्रथम चरण के चुनाव को लेकर सभी चार लोकसभा क्षेत्रों में कुल 7486 मतदान केंद्र बनाए गए है।

पुरुष वोटर 36.8 तो महिला वोटर भी 33.5 लाख 

इन चारों लोकसभा क्षेत्रों को मिलाकर पुरुष मतदाताओं की संख्या 36 लाख 83 हजार 885 है जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 33 लाख 53 हजार 809 है। वहीं थर्ड जेंडर की संख्या 272 है।  

औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र में कुल 1965 मतदान केंद्रों पर 17 लाख 37 हजार 821 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें 9 लाख 15 हजार 930 पुरुष, 8 लाख 21 हजार, 793 महिला और 98 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं।

जमुई संसदीय क्षेत्र के 1850 मतदान केंद्रों पर 17 लाख 9 हजार 356 मतदाता वोट डालेंगे। इनमें 9 लाख 5 हजार 582 पुरुष, 8 लाख 3 हजार 740 महिला और 34 थर्ड जेंडर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। वहीं नवादा संसदीय क्षेत्र में 1899 मतदान केंद्रों पर 18 लाख 92 हजार 17 मतदाता वोट डालेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News