स्थापना दिवस पर कांग्रेस झंडा और सोनिया गाँधी के साथ हुआ अजीब वाकया ‘संयोग या साजिश’

स्थापना दिवस पर कांग्रेस झंडा और सोनिया गाँधी के साथ हुआ अजीब वाकया ‘संयोग या साजिश’

दिल्ली: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 137वें स्थापना दिवस के अवसर पर मंगलवार को कांग्रेस पार्टी को शर्मसार होना पड़ा. दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी का झंडा फहराने पहुंची कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी जब ध्वजारोहण कर रही थी तभी अचानक से झंडा नीचे गिर गया. उन्होंने ध्वजारोहण के लिए रस्सी खींची लेकिन झंडा फहरने के बदले नीचे की ओर गिर गया. सब कुछ इतना जल्दी हुआ कि कोई कुछ समझ नहीं पाया. हालाँकि झंडा जब नीचे गिरा तो सोनिया गाँधी ने उसे अपने हाथों में थाम लिया जिससे झंडा जमीन पर नहीं गिरा. 

अखिल भारतीय कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेस का झंडा फहराने के दौरान झंडा नीचे गिरने के अजीब वाकये के बाद हर कोई हैरान हो रह गया. हालाँकि झंडा गिरने के बाद एक पल के लिए सोनिया गाँधी रुकी लेकिन बाद में बिना असहज हुए उन्होंने झंडे को वहां मौजूद एक सहयोगी की मदद से हाथों में लेकर फहराकर दिखाया. फहरने से पहले ही कांग्रेस का झंडा गिरने के बाद अब सोशल मीडिया पर इसे लेकर कई लोग कांग्रेस पर तंज कस रहे हैं. 


कुछ लोगों ने झंडा गिरने को कांग्रेस की लगातार कमजोर होती स्थिति से जोड़कर ट्वीट किया है. वहीं कुछ लोग इसे कांग्रेस के खिलाफ पार्टी के अंदर के लोगों की साजिश बता रहे हैं. कांग्रेस के नेता फ़िलहाल इस पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं कि यह मानवीय भूल थी या किसी ने षड्यंत्र रचा था. हालाँकि इस पूरे वाकये ने कांग्रेस स्थापना दिवस को शर्मसार जरुर कर दिया. 

इस बीच कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने स्थापना दिवस पर एक वीडियो संदेश जारी कर बिना मोदी सरकार का नाम लिए भाजपा पर हमला किया है. उन्होंने कहा, हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति को मिटाने की कोशिश हो रही है। देश का आम नागरिक असुरक्षित महसूस कर रहा है। लोकतंत्र व संविधान को दरकिनार किया जा रहा है, ऐसे में कांग्रेस चुप नहीं रह सकती।



Find Us on Facebook

Trending News