विधायकों की पिटाई करने वाले पुलिस कर्मियों-अफसरों पर होगा कठोर एक्शन, अध्यक्ष ने तेजस्वी के सबूत को देखा,कमिश्नर-आईजी को दिया ये आदेश

विधायकों की पिटाई करने वाले पुलिस कर्मियों-अफसरों पर होगा कठोर एक्शन, अध्यक्ष ने तेजस्वी के सबूत को देखा,कमिश्नर-आईजी को दिया ये आदेश

 PATNA: बिहार विधानसभा के बजट सत्र में पुलिस बिल पर विपक्षी सदस्यों ने भारी हंगामा किया था। राजद समेत सभी विपक्षी विधायकों के हंगामा के बाद विस अध्यक्ष ने पटना के डीएम एसपी को बुलाया था। इसके बाद हंगामा कर रहे विधायकों के साथ मारपीट की गई थी। विधायकों की पिटाई करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई को लेकर विस अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने पटना के कमिश्नर और आईजी के साथ बैठक की।   

विस अध्यक्ष ने कमिश्नर-आईजी को दिया आदेश

अध्यक्ष विजय सिन्हा ने बताया कि 23 मार्च को बिहार विधान सभा परिसर में सुरक्षा प्रहरी की काफी कमी रहने पर मार्शल के साथ-साथ बिहार पुलिस के जवानों की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। इनके द्वारा विधायकों से किये गये दुर्व्यवहार की समीक्षा के लिए अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने पटना प्रमंडल के आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल तथा पटना प्रक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक संजय सिंह के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की । बैठक के दौरान उन्होंने इन अधिकारियों के साथ सभा सचिवालय के सीसीटीवी से लिये गये वीडियो फुटेज तथा नेता प्रतिपक्ष द्वारा उपलब्ध कराये गये वीडियो फुटेज को देखा गया । 

लक्ष्मण रेखा लांघने की इजाजत किसी को नहीं

विधानसभा अध्यक्ष ने बैठक में इन पदाधिकारियों द्वारा किये गये अनुरोध के आलोक में घटना से संबंधित सभी वीडियो फुटेज इन्हें उपलब्ध कराने का आदेश प्रभारी सचिव को दिया. उन्होंने कहा कि व्यवहार तथा मर्यादा की लक्ष्मण रेखा लांघने की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती, फिर चाहे वे सदस्य हों या कोई पुलिस अथवा प्रशासनिक अधिकारी . हर हाल में सदस्यों के साथ सौम्यतापूर्वक व्यवहार किया जाना चाहिए । सदस्यों के सम्मान से कोई समझौता नहीं किया जा सकता और सदन की गरिमा सर्वोपरि है। सदस्यों के साथ किये गये दुर्व्यवहार के दोषी पुलिसकर्मियों की पहचान दृश्य, श्रव्य एवं साक्ष्य के आधार पर करें और उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करें. 

   

                                                       

Find Us on Facebook

Trending News