चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी देश के नवयुवकों के लिए उच्च शिक्षा के क्षेत्र में एक बेहतरीन विकल्प -प्रो. प्रभदीप

पटना : आज का नवयुवक इंजीनियरिंग में एरोनॉटिकल पेट्रोलियम इन्फॉर्मेशन सिक्यूरिटी, क्लाउड कंप्यूटिंग तथा मैनेजमेंट में बिजनेस एनालिटिक्स , फाइनेंशियल इंजीनियरिंग, जैसे उभर रहे क्षेत्रों का चयन कर रहा है, जिसकी इंडस्ट्री में भारी मांग देखी जा रही है। पटना के छात्र भी इसी दिशा में २१वीं सदी के नए एज प्रोग्राम चुन रहे है, जिससे उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और रोजग़ार के बेहतर अवसर मिल सके। इस समय बिहार से २००० छात्र चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में विभिन्न कोर्सो में उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे है तथा अन्य राज्यों से आए छात्रों को अकादमिक कैंपस प्लेसमेंट तथा रिसर्च इत्यादि जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में चुनौती प्रदान कर रहे हैं।

ये जानकारी चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता प्रो प्रभदीप सिंह ने पटना में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान पत्रकारों को कही। उन्होंने  2018 के दौरान बिहार के छात्रों की उपलब्धियों  के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि बैच  2018 में पासआउट होने वाले बिहार के 340 छात्रों में से 230 को कैंपस प्लेसमेंट के दौरान बहु-राष्ट्रीय कंपनियों ने नौकरी के लिए चुना है। जिनमें से 80  छात्र ऐसे है जिन्हें 2 या अधिक कंपनियों की तरफ से नौकरी की पेशकश की गई है। उन्होंने बताया कि पटना के एमबीए के छात्र अमित त्रिवेदी ने प्रमुख बहु-राष्ट्रीय कंपनियों में नौकरी हासिल की है जिसमे एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, बैंक आफ अमेरिका तथा डेलोइट शामिल है। 

बिहार के छात्रों की तरफ से किए जा रहे अनुसंधान एवं Entrepreneurship के कार्यो पर रौशनी डालते हुए चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के प्रो. सिंह ने बताया कि अब तक प्रदेश के छात्रों द्वारा कुल 8 स्टार्ट-अप लांच किए गए हैं। प्रदेश के छात्रों की काबलियत को दर्शाते हुए प्रो. प्रभदीप सिंह ने बताया कि अब तक विश्वविद्यालय से दर्ज हुए 390 पेटेंटों में से 13 पेटेंट प्रदेश के छात्रों की तरफ से किए गए हैं, जिसमे हेल्थ, फार्मास्यूटिकल एवं मेडिकल, आईटी, सॉफ्टवेयर एवं मकैनिकल स्टार्ट अप्प क्षेत्र में शुरू किए गए कार्य विशेष तौर पर शामिल है। 

यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए कहा कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की तरफ बिहार के मेहनती एवं होनहार छात्रों का मनोबल बढ़ाने के मकसद से सीयू सैट 2019  के अंतर्गत 100 प्रतिशत तक की स्कालरशिप देने का प्रबंध किया जा रहा है। इस स्कालरशिप परीक्षा के अंतर्गत देश भर से 800  मेरिटोरियस छात्रों को चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी द्वारा विभिन्न कोर्सो में स्कालरशिप प्रदान की जाएगी, जिसका ऑनलाइन पेपर  2019 में बिहार के अलग अलग शहरों में केंद्र स्थापित करके लिया जा रहा है। छात्र इस स्कालरशिप का विस्तृत व्योरा http://fasttrack.cuchd.in/  पर पढ़ सकते है।  प्रो प्रभदीप ने बताया की पिछले 5 सालों में बिहार से चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढऩे वाले छात्रों की संख्यां बढ़ी है जिससे की यह बात स्पष्ट होती है कि बिहार के छात्र अब चंडीगढ़ को अपनी उच्च शिक्षा के वैकल्पिक शहर की तरह देखने लगे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News