काबुल के मस्जिद में हुआ आत्मघाती हमला, जुमे की नमाज को जुटे 65 से अधिक लोगों ने गंवाई जान, हर जगह दिख रहा था खून ही खून

काबुल के मस्जिद में हुआ आत्मघाती हमला, जुमे की नमाज को जुटे 65 से अधिक लोगों ने गंवाई जान, हर जगह दिख रहा था खून ही खून

DESK : अफगानिस्तान की राजधानी शुक्रवार को एक और विस्फोट हुआ है। देश की राजधानी काबुल में शुक्रवार को हुए विस्फोट में 70 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है। बीचे दो हफ्तों के दौरान देश में यह तीसरा बम धमाका है। 

जहां अफगान सरकार की तरफ से 50 से अधिक लोगों की मौत की बात कही गई है। वहीं अस्पताल के कर्मियों की मानें तो विस्फोट के बाद से अब तक करीब 70 लोगों के शव यहां पहुंच चुके हैं। वहीं करीब 78 लोग घायल हैं, जिनका इलाज जारी है। बताया जा रहा है कि यह धमाका शुक्रवार को जुमे की नमाज के वक्त में मस्जिद में हुआ है। अफगान गृह मंत्रालय के ओर जारी एक बयान में बताया गया है कि यह धमाका काबुल की खलीफा साहिब मस्जिद में दोपहर के वक्त हुआ। 

धमाके में घायल मस्जिद के मौलवी ने कहा कि यह एक आत्मघाती हमला है। हमलावर नमाज के वक्त लोगों के बीच शामिल हुआ, जिसके बाद उसने पूरी वारदात को अंजाम दिया। साथ ही उन्होंने बताया कि यह हमला उस समय हुआ जब सुन्नी मस्जिद में नमाज के बाद लोग जिक्र के लिए इकट्ठा हुए थे।

अफगान की सत्ता पर काबिज तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने एक बयान जारी कर विस्फोट की निंदा की है। साथ ही उन्होंने कहा है कि जल्द ही अपराधियों को ढूंढकर, उन्हें दंडित किया जाएगा। अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

दस दिन में तीन बड़ी वारदात

बीते कुछ वक्त में अफगानिस्तान में विस्फोट की वारदातों में बढ़ोतरी हुई है। इस बीच बड़ी तादाद में लोगों की मौत हुई है, गुरुवार को ही मजार ए शरीफ हुए एक विस्फोट में करीब नौ लोगों की मौत हुई थी और 13 अन्य लोग घायल हुए थे। इससे पहले 21 अप्रैल 2022 को मजार ए शरीफ में ही एक मस्जिद को निशाना बनाया गया था। पिछले दोनों धमाकों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (ISIS) ने ली है।

Find Us on Facebook

Trending News