आधुनिकता का दंभ भरनेवालों पर अंधविश्वास हावि, गंगा के इस घाट पर लगे भूतिया मेले में जुटी हजारों की भीड़

आधुनिकता का दंभ भरनेवालों पर अंधविश्वास हावि, गंगा के इस घाट पर लगे भूतिया मेले में जुटी हजारों की भीड़

HAJIPUR : खबर हाजीपुर से है जहां सदर अनुमंडल अंतर्गत ऐतिहासिक मोक्षधाम कहा जाने वाला कोनहारा घाट पर कार्तिक पूर्णिमा के शाही स्नान के मौके पर गंगा और गंडक के संगम पर इस बार भी अंधविश्वास का खेल खुलेआम चलता रहा यानी इस पावन अवसर पर पवित्र स्नान के दौरान भारी संख्या में ओझा गुणियों और तांत्रिकों का अजीबोगरीब हरकत देखने को मिला। ऐसा लग रहा था कि यह पवित्र स्थान पूरी तरह भूतिया हो गया है। 

कई लोग इसे भूतों का मेला भी कहते हैं और इस दौरान दूर-दूर से आए तांत्रिकों ओझा गुणियों जो अंधविश्वास का खेल चलता है उसे देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक तरफ जहां हम 21वीं सदी में रहने की बात करते हैं। लेकिन दूसरी तरफ आज भी बहुत सारे लोग अंधविश्वास के दौर में जी रहे हैं। खास बात यह है कि तांत्रिकों के द्वारा अपने तंत्र विद्या से भोले भाले इंसानों खासकर महिलाओं को अपने झांसे में लिया जाता है और इलाज के नाम पर अजीबोगरीब हरकत किया जाता है। जिसे देखकर हैरानी होती है गंगा और गंडक के संगम पर ढेर सारे तांत्रिकों का बाजार लगता है जहां गाजे-बाजे और तांत्रिक मंत्र उच्चारण के साथ-साथ अजीबोगरीब आवाज के साथ भूत खेली का खेल होता है। जिसमें लोग अजीबोगरीब हरकत करते नजर आते हैं इस दौरान तांत्रिकों के द्वारा भोले भाले इंसानो के साथ अमानवीय व्यवहार भी करते नजर आते हैं। 

आग में जला दिया महिला का बाल

एक जगह तो ऐसा देखने को मिला जहां इलाज के नाम पर करतब कर रही। एक महिला के सर से जबरन बाल काटा गया महिला चीखती चिल्लाती रही। लेकिन उसके सिर के बाल काटकर तांत्रिक के द्वारा आग में जला दिया गया और कहा गया कि इससे भूत भगाया जा रहा है लेकिन यह सब इलाज के नाम पर होता है और तांत्रिकों के द्वारा भोले भाले इंसानो को इलाज के नाम पर जहां से मिले कार्य खेल होता है लेकिन प्रशासन आज तक इस पर कोई पाबंदी नहीं लगा सका। इस कारण अंधविश्वास का यह खेल लगातार जारी है। 

डॉक्टरों से खूद को बेहतर मानते हैं तांत्रिक

जब तांत्रिकों से पूछा गया कि क्या यह सही है तो उनका दलील सुनकर भी हैरानी हुई। तांत्रिकों का कहना है कि जहां बड़े-बड़े डॉक्टर इलाज करने में फेल हो जाते हैं वैसे मरीजों का तांत्रिक विद्या से इलाज किया जाता है और वह ठीक हो जाता है हालांकि तांत्रिक विद्या के इस कारनामे को कई लोग गलत बताया और कहा कि यह तांत्रिकों का गलत व्यवहार है लेकिन इस पर अभी तक रोक नहीं लग सका है तांत्रिकों का कहना है कि भूत भगाने के लिए पूजा सामग्री तैयार किया जाता है और  धूप हवन के जरिए भूत को भगाने में सफलता मिलती है


Find Us on Facebook

Trending News