निगरानी की टीम ने दारोगा को 40 हज़ार रूपये घूस लेते किया गिरफ्तार, अपहरण केस में नाम हटाने के लिए मांगी थी रिश्वत

निगरानी की टीम ने दारोगा को 40 हज़ार रूपये घूस लेते किया गिरफ्तार, अपहरण केस में नाम हटाने के लिए मांगी थी रिश्वत

BHAGALPUR : लड़की के अपहरण केस में नाम हटाने के लिए 40 हज़ार रूपये रिश्वत लेते निगरानी की टीम ने सदर थाना पूर्णिया के एसआई संतोष कुमार और उसके दलाल एनुल अंसारी उर्फ सोनू को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। 


पटना से आई निगरानी विभाग की टीम के प्रभारी संजय कुमार जायसवाल ने बताया कि एसआई संतोष कुमार द्वारा 40 हज़ार रूपये रिश्वत की मांग की गई थी। इसे लेकर सुनीता कुमारी ने पटना निगरानी में एक सप्ताह पहले एसआई द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत की थी। निगरानी टीम के डीएसपी ने बताया कि संतोष कुमार के दलाल ने केस से नाम हटाने के लिए एसआई के लिए 30000 और अपने लिए 10,000 की मांग की थी। 

सुनीता रिश्वत की रकम देने के लिए एसआई और उसके दलाल को फोन करके सदर थाना के सामने की दुकान पर पहुँची। वहां सिविल ड्रेस में दारोगा पहले से ही मौजूद थे। इस बीच सुनीता ने जैसे ही दोनों को रुपए दिए तो निगरानी की टीम में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। 

यह जानकारी निगरानी अनुसंधान के संजय कुमार जयसवाल ने दी। साथ मे भागलपुर निगरानी टीम के राकेश कुमार भी मौजूद थे। आगे की प्रक्रिया के लिए दोनों को सिविल कोर्ट भागलपुर लाया गया।

भागलपुर से बालमुकुन्द की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News