पुलिस कस्टडी में सिकंदर मांझी की मौत के बाद परिजनों से मिले सुशील मोदी, कहा पुलिसकर्मियों पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा

पुलिस कस्टडी में सिकंदर मांझी की मौत के बाद परिजनों से मिले सुशील मोदी, कहा पुलिसकर्मियों पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा

CHAPRA : छपरा में पुलिस अभिरक्षा में इलाज के दौरान गड़खा थाना क्षेत्र के पीठाघाट गाँव के शराबी की मौत के बाद परिजनों ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाया है। इस आरोपो के बाद प्रशासन ने मेडिकल टीम गठित कर मृत सिकन्दर मांझी का पोस्टमार्टम कराया है। वही सिकन्दर मांझी की मौत ने पुलिसिया कार्रवाई पर कई सवाल खड़ा कर दिया है। 


सिकन्दर मांझी के परिजनो से मिलने पहुँचे राज्य सभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने परिजनों से घटना की जानकारी ली। साथ ही इस दौरान उन्होंने तकरीबन 5 मिनट तक सारण एसपी से फोन पर बात की। वहीँ सांसद ने कहा की पुलिस तलवे में मारती है, इसको चोट का निशान भी तलवे में ही है। इस घटना को लेकर उन्होंने स्थानीय थाना पुलिस पर 302 का मुकदमा होने की बात कही। 

उन्होंने यह भी कहा की शराब बंदी अच्छी चीज है। इसका कड़ाई से पालन किया जाये। इसका यह मतलव यह नही की उसको थाने में पीटकर हत्या ही कर दी जाये। राज्य सभा सांसद सुशील मोदी ने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि आपके लापरवाही के कारण शराब मिलता है। उन्होंने सिंकदर मांझी के मौत पर सरकार से हत्या की मुकदमा दर्ज करते हुए मुवावजे की राशि देने की मांग की। 

उन्होंने कहा की जहरीली शराब से मरने वालो के परिजनों को भी मुवावजा दी जाए, शराब आपके लापरवाही के कारण मिलती है, इसलिये पीकर मरने वाले क परिजनों का कोई दोष नही, इसलिये जहरीली शराब से मौत वाले परिजनों को भी मुवावजा की मांग की है।

छपरा से शशि सिंह की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News