विश्व युवा कौशल दिवस समारोह में बोले सुशील मोदी- हुनरमंद युवा कभी भूखा और बेरोजगार नहीं रहा सकता

विश्व युवा कौशल दिवस समारोह में बोले सुशील मोदी- हुनरमंद युवा कभी भूखा और बेरोजगार नहीं रहा सकता

PATNA : बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि हुनरमंद युवा कभी भूखा और बेरोजगार नहीं रह सकता है। सुशील मोदी ने कहा कि अगले 10 वर्षों के बाजार और उद्योग की जरूरत की मैंपिंग कर कार्यबल को प्रशिक्षित करना चाहिए। इंजीनियरिंग, पॉलीटेक्निक व आईटीआई सहित तकनीकी संस्थानों में नई संभावनाओं के क्षेत्र वाले कोर्स डिजाइन कर बच्चों को प्रशिक्षित कराने की जरूरत है। वे रविवार को ज्ञान भवन में विश्व युवा कौशल दिवस पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे।

डिप्टी सीएम ने कहा कि आने वाला दिन इलेक्ट्रिक गाड़ियां, सोलर, रोबोटिक्स व आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का होगा। कोर्स इसके अनुरूप बने। हुनरमंद युवा कभी बेजरोजगार और भूखा नहीं रह सकता है। अपने देश में मात्र पांच फीसदी कार्यबल ही प्रशिक्षित हैं, जबकि विश्व में सबसे ज्यादा साउथ कोरिया में 96 प्रतिशत है। 

सुशील मोदी ने कहा कि आईटीआई उत्तीर्ण विद्यार्थियों को इंटरमीडिए उत्तीर्ण का दर्जा पाने के लिए अंग्रेजी और हिंदी में पास होना जरूरी है। इस बार इस परीक्षा के लिए मात्र 5 हजार आईटीआई उत्तीर्ण से फार्म भरा। इंटरमीडिएट का मान्यता पाने के लिए इनको जागरूक करना जरूरी है। राज्य के सरकार आईटीआई को विश्वस्तरीय बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि  राज्य के सभी 38 जिलों में सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज और 44 पॉलीटेक्निक की स्थापना कर दी गई है। प्रतिवर्ष 9500 इंजीनियर व 11 हजार डिल्लोमाधारक उत्तीर्ण होंगे। 135 सरकारी और एक हजार से अधिक निजी आईटीआई है। हर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बीएससी नर्सिंग की पढ़ाई शुरू हो चुकी है। एएनएम, जीएनएम और पारा मेडिकल की पढ़ाई भी शुरू हो गई है। समारोह को मंत्री विजय कुमार सिन्हा, जय कुमार सिंह और प्रमोद  कुमार ने भी संबोधित किया।

Find Us on Facebook

Trending News