ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस बोले, पहली बार बिजली कंपनियों को हुआ 215 करोड़ का मुनाफा, दूर होंगी स्मार्ट मीटर की शिकायतें

ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस बोले, पहली बार बिजली कंपनियों को हुआ 215 करोड़ का मुनाफा, दूर होंगी स्मार्ट मीटर की शिकायतें

PATNA : पटना में आज सस्टेनेबल एनर्जी मैनेजमेंट कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। इस मौके पर उर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस ने कहा की एपेक न्यूज नेटवर्क ने इसे आयोजित किया था। जिसका आयोजन देश के दुसरे राज्यों में भी कराया जा चूका है। इसमें एनर्जी को ज्यादा देर तक लोगों के लिया बचा कर रखे। सरकार ने भी इसके लिए पहल की है। सरकारी भवनों पर सोलर सिस्टम लगाये जा रहे हैं। कजरा में जो थर्मल पवार बनना था। वहां अब सोलर प्लांट बनेगा। 

संजीव हंस ने कहा की बिहार की दोनों बिजली कंपनियों को पहली बार 215 करोड़ का फायदा हुआ है। इसमें सभी लोगों का सामूहिक प्रयास हुआ है। फीडर में जो चोरी हो रही थी। उसे रोका गया है। स्मार्ट प्रीपेड मीटर को लागु किया गया है। बिहार में 18 लाख प्रीपेड मीटर लगाया जा चूका है। स्मार्ट मीटर को लेकर मिल रही शिकायतों पर संजीव हंस ने कहा की ऐसा नहीं है की हमलोगों ने मीटर लगाकर छोड़ दिया है। 

उन्होंने कहा की स्मार्ट मीटर लगने के बाद भी लोगों ने लोड नहीं बढाया। जिससे पेनल्टी लगती थी। अब अप्रूवल लिया गया है की स्मार्ट मीटर लगने के 6 माह बाद तक पेनल्टी नहीं लगेगी। इससे जो वास्तविक चार्ज ही लगेगा। वहीँ उन्होंने कहा की एरियर भी इसमें जोड़ दिया जाता है। 



Find Us on Facebook

Trending News