ताइवान पर कब्जा करने के लिए रिहर्सल कर रहा चीन, बस एक राजनीतिक कारण की तलाश

ताइवान पर कब्जा करने के लिए रिहर्सल कर रहा चीन, बस एक राजनीतिक कारण की तलाश

Desk: चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े एक अखबार ने खुलकर यह स्वीकार किया है कि सेना ताइवान पर कब्जे के लिए अभ्यास कर रही है. चीन सरकार का मुखपत्र समझे जाने वाले अखबार ने कहा है कि शुक्रवार को लड़ाकू विमानों का ड्रिल कोई चेतावनी देने के लिए नहीं था, बल्कि ताइवान पर कब्जा करने के लिए रिहर्सल था.

शुक्रवार को चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी  ने ताइवान के पास लड़ाकू विमान उड़ाए. विमानों की आवाजाही सुबह करीब 7 बजे ही शुरू हो गई थी. एक साथ कई तरफ से चीन के लड़ाकू विमान उड़े और ताइवान के पास पहुंच गए. अखबार के मुताबिक, ताइवान के रक्षा विभाग ने चीन के कुल 18 विमानों के उड़ने की जानकारी दी है.

अखबार के मुताबिक चीनी सेना अब भी संयमित है. लेकिन जब भी अमेरिका का कोई उच्च अधिकारी ताइवान जाता है, चीनी सेना के युद्धक विमान 'एक कदम' और आगे बढ़ते हैं. अगर अमेरिकी विदेश मंत्री ताइवान आते हैं तो चीनी सेना को देश के ऊपर से विमान उड़ाना चाहिए.

चीन ने साफ कर दिया है कि बस एक राजनीतिक कारण की तलाश है, ताकि ताइवान की स्वतंत्र शक्ति को खत्म किया जा सके. अगर ताइवान के अधिकारी आक्रामक रुख बनाए रखेंगे तो ऐसी स्थिति निश्चित तौर से आ ही जाएगी.


Find Us on Facebook

Trending News