तालिबान का पाकिस्तान पर "तस्वीर" वाला हमला, 1971 की जंग का फोटो शेयर कर लिख दिया... वह दिन दूर नहीं

तालिबान का पाकिस्तान पर "तस्वीर" वाला हमला, 1971 की जंग का फोटो शेयर कर लिख दिया... वह दिन दूर नहीं

DESK. पाकिस्तान को आने वाले दिनों में एक और टूट का सामना करना पड़ सकता है. तालिबान ने इसकी तैयारी भी कर ली है. बाकयदा इसके लिए धमकी भरे अंदाज में एक पोस्ट की गई है. इसमें पाकिस्तान को याद दिलाया गया है कि जैसे वर्ष 1971 में पाकिस्तान ने भारत के सामने घुटने टेके थे वैसे ही इस बार अफगानिस्तान के लड़ाके भी पाकिस्तान में शर्मनाक पुनरावृति करेंगे. यानी पाकिस्तान फिर से टूट जाएगा. पाकिस्तान को चिढ़ाने के लिए तालिबान ने 1971 युद्ध की एक फोटो भी शेयर की है जिसमें पाकिस्तान के सैन्य प्रमुख भारत के सामने आत्म समर्पण कर रहे हैं. 

पाकिस्तान और तालिबान के बीच अब दोस्ताना संबंध नहीं है. जुबानी जंग अब धमकियों में बदल चुकी है. पाकिस्तान में तहरीक-ए-तालिबान के आतंकी हमले पहले से तेज हो चुके हैं. शहबाज सरकार का आरोप है कि अफगानिस्तान टीटीपी आतंकवादियों को शरण दे रहा है. इतना ही नहीं पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में घुसकर टीटीपी का सफाया करने की भी बात कही है. इस 'धमकी भरे बयान' ने तालिबान को नाराज कर दिया है. जवाब में तालिबान के एक सदस्य ने पाकिस्तान को 1971 के युद्ध की याद दिलाई जिसमें पाकिस्तानी सेना को भारत के आगे सरेंडर करना पड़ा था.

पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने पिछले सप्ताह अफगान तालिबान को धमकी दी. उन्होंने कहा, अगर उसने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) को हमारे मुल्क में हमलों से नहीं रोका तो हम अफगानिस्तान में घुसकर आतंकियों को मारेंगे. इसका जवाब अफगान तालिबान के डेप्यूटी प्राइम मिनिस्टर अहमद यासिर ने बेहद तल्ख लहजे में दिया. यासिर ने 1971 में भारत के हाथों पाकिस्तानी फौज की हार और सरेंडर की फोटोग्राफ शेयर की और कहा- इस तरह का अंजाम याद रखना. 

15 अगस्त 2021 के अफगान तालिबान ने काबुल के साथ ही पूरे अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया. तालिबान के दो धड़े हैं. पहला- अफगानिस्तान तालिबान. इसमें ताजिक, उज्बेक, पश्तून और हजारा समेत कई समुदायों के लोग हैं. दूसरा- TTP यानी तालिबान पाकिस्तान. इसमें ज्यादातर पश्तून और पठान हैं. ये पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा और वजीरिस्तान में एक्टिव हैं.

टीटीपी ने ही पाकिस्तान को धमकी देते हुए याद दिलाया है कि जैसे 1971 में भारत ने पाकिस्तान को तोड़ा था. अगर पाकिस्तान इस बार हम पर हमला करने की कोशिश की तो हम भी पाकिस्तान के साथ वैसा ही करेंगे जैसा भारत ने किया था. यानी जैसे पाकिस्तान से टूटकर बांग्लादेश बना वैसे ही फिर से पाकिस्तान से टूटकर एक और मुल्क बन जाएगा. 


Find Us on Facebook

Trending News