TALIBAN TERROR: काबुल का भारत पर सबसे बड़ा हमला, भारतीयों सहित 150 लोगों का अपहरण, 12 घंटे बाद सभी को वापस छोड़ा

TALIBAN TERROR: काबुल का भारत पर सबसे बड़ा हमला, भारतीयों सहित 150 लोगों का अपहरण, 12 घंटे बाद सभी को वापस छोड़ा

N4N DESK: अफगानिस्तान में हर तरफ तालिबान का कहर है। सत्ता पर आने से पहले जैसा तालिबान ने शांति, रहम, दया की बातें कही थी, सभी का नकाब उतर चुका है, और अब वह असली रंग में आ चुका है। इसी बीच भारत के लिए तालिबान से बड़ी खबर यह है कि काबुल एयरपोर्ट से कई भारतीयों सहित 150 लोगों को तालिबानियों ने देर रात अगवा कर लिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक काबुल एयरपोर्ट के पास से तालिबान भारतीयों समेत जिन 150 लोगों को अपने साथ ले गया था, उन्हें 12 घंटे बाद छोड़ दिया है। इन लोगों में शामिल भारतीयों की अब काबुल एयरपोर्ट से जल्द वतन वापसी की उम्मीद है। यह साफ नहीं हो पाया है कि इन लोगों को ले जाने के पीछे तालिबान का मकसद क्या था, लेकिन सूत्रों ने पहले ही बताया था कि सभी लोग सुरक्षित हैं। अगवा करने वक़्त इनलोगों में से शामिल एक आदमी भागने में कामयाब रहा, वह अपने पत्नी के साथ था। उसने बताया कि रात के आज रात एक बजे कुछ लोग एक वाहन के जरिए एयरपोर्ट पहुंचे थे लेकिन कॉर्डिनेशन ठीक नहीं होने चलते ये लोग एयरपोर्ट के भीतर एंट्री नहीं कर सके। बिना हथियार के आए तालिबानी ने लोगों से हाथापाई की और उन्हें अगवा करके काबुल के ताराखील ले गए। उस शख्स ने बताया कि कुछ ही लोग कार से कूद कर भाग पाए और बाकी लोगों का भगवान जाने क्या होगा।

वहीं तालिबान की तरफ से इन सभी आरोपों का खंडन किया गया है। स्थानीय मीडिया के बातचीत के दौरान तालिबान के प्रवक्ता ने कहा कि उन्होनें किसी को अगवा नहीं किया, बल्कि लोगों को दूसरे गेट से एअरपोर्ट ले जा रहे थे। हालांकि यह साफ़ नही हुआ है वो लोग लोगों को एअरपोर्ट ले गये है या कहीं और। तालिबानी नेताओं ने दिलासा दिया था कि इस बार का मौजूदा तालिबान पहले से ज्यादा उदार होगा। तालिबान फिर से अफगान में सरकार बनाने की तैयारी में लगा हुआ है जिससे वहा के लोगों में देहसत बना हुआ है, उधर तालिबानियों का को-फाउंडर मुल्ला बरदार सरकार बनाने को लेकर चर्चा करने काबुल पहुचा है, वह वहां के राजनीतिज्ञों और जिहादी नेताओं से भी मुलाकात करेगा।

Find Us on Facebook

Trending News