चिराग से तो अपना घर संभल ही नहीं रहा, चलें हैं कार्यकर्ताओं को झूठा आश्वासन देने- तारकिशोर प्रसाद

चिराग से तो अपना घर संभल ही नहीं रहा, चलें हैं कार्यकर्ताओं को झूठा आश्वासन देने- तारकिशोर प्रसाद

पटना... बिहार से एक राज्यसभा सीट को लेकर सियासत गर्म हो गई है। भाजपा की तरफ से सुशील कुमार मोदी के नाम के ऐलान के साथ ही राजद की तरफ से एक नई सियासत शुरू हो गई है। राजद ने रामविलास के निधन के बाद खाली पड़े सीट के लिए उनकी पत्नी की सिफारिश कर दी है। हालाकि लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान ने भाजपा के सुशील मोदी के नाम के घोषणा के बाद कहा था कि यह पिता रामविलास पासवान की राज्य सभा की यह भाजपा कोटे से मिली थी इसलिए यदि भाजपा इस सीट पर भाजपा नेता को दे रही है तो यह गलत नहीं है। जबकि लोजपा  की ओर से जारी किए बयान में रामविलास पासवान की पत्नी रीना पासवान को देने की वकालत की थी। राजद ने भी रीना का समर्थन किया है। 

इधर, आज भाजपा प्रदेश कार्यालय के अटल सभागार में मन की बात कार्यक्रम के तहत बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी सहित भाजपा के कई नेता मौजूद रहे। पीएम मोदी की मन की बात कार्यक्रम के बाद  बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल का आज पूरे जश्न के साथ जन्मदिन मनाया गया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और उपमुख्मंत्री रेणू देवी के साथ सैकड़ों कार्यकर्ता कार्यालय में मौजूद रहे। इस अवसर पर दोनो उपमुख्यमंत्री ने केक काटकर सभी कार्यकर्ताओं का मुंह मीठा भी कराया। 

वहीं, उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि देखिए तेजस्वी यादव विपक्ष में बैठे हैं, वो क्या कहते हैं और क्या करते हैं वो हमारा इश्यू नहीं है। हमको तो अपना काम करना है। आज बिहार में एनडीए की सरकार बनी है तो हम विकास के एजेंडे पर ही चलेंगे। 15 वर्षों में बिहार के लोगों ने, देश के लोगों ने देखा है कि हमने किस तरह के लिए सरकार चलाया है। 2005 के पहले सूबे में क्या हाल था ये सब जानते हैं। यह हमारी अपनी टिप्पणी नहीं है, यह न्यायालय की टिप्पणी है कि किस प्रकार से जंगलराज था। जिस तरीके से लालू परिवार ने कारनामे दर कारनामे, घोटाले दर घोटाले करते चले गए, उनको छुपाने के लिए वो सत्ता में आना चाहते थे। 

वहीं उन्होंने तेजस्वी को लेकर कहा कि सदन की जो परंपरा है उस परंपरा से हटकर कुछ ऐसी बातों को कहना जो कहीं से भी संसदीय नहीं है। इसको अब सीधा समझ सकते हैं कि आखिर जों कुलबुलाहट है वो किस चीज का है। अभी ठीक से 1 महीना भी पूरा नहीं कर पाए हैं और इस तरह की कुलबुलाहट क्याें है।  आने वाले समय में एनडीए सरकार किस तरह से भ्रष्टाचार और कई ऐसी चीजें हैं जिसके खिलाफ कदम उठाएगी, ये सभी देखेंगे। इसलिए मैं तेजस्वी यादव की बातों पर ज्यादा प्रतिक्रिया नहीं दे सकता। इसके अलावा उपमुख्यमंत्री ने कहा कि चिराग पासवान जी क्या कहते हैं ये हमारा विषय नहीं है, इस पर राष्ट्रीय नेतृत्व देख रहा है। उनके साथ किस प्रकार का संबंध होगा इस पर बाद में तय होगा।


वहीं पटना में बढ़ते अपराधों को लेकर डिप्टी सीएम रेणू देवी ने कहा कि ऐसा नहीं है कि हमारा प्रशासन सोया हुआ है। प्रशासन निश्चित रूप से अपना काम कर रहा है और आने वाले समय में ऐसी घटनाएं नहीं होगी। एनडीए की सरकार में महिलाएं खुद को ज्यादा सुरक्षित समझती हैं। 15 साल पहले प्रदेश में महिलाओं का क्या हाल था और एनडीए की जो 2005 सरकार आई तो महिलाओं ने विश्वास किया है उस विश्वास में कोई थोड़ा बहुत इधर-उधर करता है तो हमारी प्रशासन अंकुश लगाने का काम करेगी और आगे भी हम करते रहेंगे ताकि हमारे राज्य में किसी भी महिला को किसी तरह से कोई समस्या ना हो। वहीं उन्होंने चिराग पासवान के ऊपर हमला बोलते हुए कहा कि जिसके पास अपनी गिनती नहीं है अपने कार्यकर्ताओं को झूठा आश्वासन दे रहा है। 

सबसे दुख की बात यह है कि चिराग वह दिन भूल गए हैं कि अनुसूचित जाति जो शक्ति सिंह की हत्या हो गई, उनकी महिला को क्या किया। क्या वह टिकट के लिए हुआ था। क्या उन्होंने टिकट के लिए पैसा नहीं दिया तो उनकी हत्या हो गई। हत्या के बाद उन्होंने आरोप भी लगाया। आरोप के बाद उस महिला की चिंता नहीं है, लेकिन लोजपा की बहनों की चिंता हमें भी है।

पटना से कुमार गौतम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News