पहले सेंटा, अब टीचर बनकर बच्चों को मैथ्स पढ़ाती नजर आई सीतामढ़ी की जिलाधिकारी... खूब हो रही चर्चा

पहले सेंटा, अब टीचर बनकर बच्चों को मैथ्स पढ़ाती नजर आई सीतामढ़ी की जिलाधिकारी... खूब हो रही चर्चा

सीतामढ़ी : सरकार के बाद प्रदेश भर में सीनियर सेकेंडरी स्कूलों को खोल दिया गया है। जहां कोविड के नियमों का पालन करते हुए विद्यालय का संचालन किये जाने का आदेश शिक्षा विभाग ने जारी किया है। इसी का जायजा लेकिन गुरुवार को सीतामढ़ी की जिलाधिकारी अभिलाषा कुमारी शर्मा ने विद्यालयो में चल रहे पढ़ाई एवम कोविड नियमो के शत प्रतिशत पालन को लेकर कई विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया है। 

लेकिन विद्यालय पहुँचते ही डीएम साहिबा में एक अलग सा ही बदलाव देखने को मिला, और बच्चों को कोविड का पाठ पढ़ाते पढ़ते डीएम साहिबा कब शिक्षक बन बैठी, उन्हें खुद ही न पता चला... फिर क्या था बच्चों को मैथेमेटिक्स के त्रिभुज के तीनो  कोणों के योग से लेकर बिहार की संगीत साधना तक कि क्लास डीएम साहिबा लेने लगी। डीएम साहिबा के इस शिक्षक रूप को देख जहां विद्यालय के शिक्षक अचंभित थे। तो वही अपनी डीएम को शिक्षक के रूप में देख बच्चे काफी खुश दिखाई दिए। बतादे की इससे पहले भी डीएम की कई तस्वीरें शोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है जिसे वे कभी बकड़ी के छोटे से बच्चे को प्यार करती नज़र आती है। तो वही नये साल में लोगो के बीच पहुँच जम कर जश्न मनाया और उन्हें कोविड से बचाव को लेकर दो गज दूरी, मास्क है जरूरी का पाठ भी पठाती नज़र आई। 

शिक्षकों के लिए दिया सबक

सीतामढ़ी के डीएम ने खुद शिक्षक की भूमिका निभाकर शिक्षकों को भी सबक सिखाने का काम किया है, जो बच्चों को पढ़ाने की जिम्मेदारी छोड़कर दूसरे गतिविधियों में व्यस्त नजर आते हैं।

क्रिसमस पर सेंटा बनी थी डीएम साहिबा

ऐसा लगता है कि बच्चों के बीज जाने के बाद खुद को रोक नहीं पाती हैं। क्रिसमस पर वह दिव्यांग बच्चों के अनाथाश्रम में सेंटा की भूमिका में नजर आई थी। इस दौरान उन्होंने बच्चों को गिफ्टस, कपड़े और खिलौने दिए थे, साथ ही काफी समय तक बच्चों के साथ खेलती नजर आई थी।  जिसका वीडियो भी उस समय खूब चर्चा में आया था। जिलाधिकारी से इस व्यवहार की इलाके में लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News