तीन लाख के लिए बहू को जलाकर मार डाला, पुलिस के डर से अब हैं फरार

तीन लाख के लिए बहू को जलाकर मार डाला, पुलिस के डर से अब हैं फरार

 गोपालगंज। जिले में नगर थाना क्षेत्र से दहेज हत्या का मामला सामने आया है, जहां बताया जा रहा कि दहेज में तीन लाख रुपए की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालवालों ने बहू को जलाकर मार डाला। वही साक्ष्य मिटाने के लिए आनन फानन में उसका अंतिम संस्कार भी  कर दिया गया। अब मृतका के मायकेवालों की शिकायत पर पुलिस ने अपनी छानबीन शुरू कर दी है। 

मामले में बताया गया कि सीवान जिले के बसंतपुर थाने के नबीगंज ओपी के बाला गांव के नंदलाल साह की पुत्री प्रीति देवी की शादी वर्ष 2018 में नगर थाने के छपिया गांव के जगदीश साह के पुत्र विकास साह के साथ हुई थी। शादी के बाद कुछ दिनों तक  रिश्ता सही रहा। मगर बाद में ससुरालवाले दहेज में तीन लाख रुपए की मांग करने लगे। मांग पूरी नहीं होने पर उसे प्रताड़ित किया जाने लगा। 

20 फरवरी को प्रीति का भाई गोपालगंज आया था। इसके बाद वह अपनी बहन से मिलने के लिए उसके गांव छपिया गया तो घटना की जानकारी हुई। इसके बाद उसने घटना की सूचना अपने घरवालों को दी।प्रीति की हत्या कर शव को जला देने की सूचना मिलने के बाद जब उसके मायके लोग छपिया गांव में पहुंचे तो ससुराल के लोग उनके साथ मारपीट करने लगे। मारपीट में छपिया गांव के कुछ लोगों ने भी उनका साथ दिया।  इसकी खबर मिलने के बाद जब नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची तो परिजन ग्रामीण वहां से भाग खड़े हुए। मगर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। प्रीति के मायके वालों ने ससुरालवालों पर मारपीट करने की का आरोप लगाया है। 

पति सहित पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज
महिला की हत्या कर शव जलाने के मामले में मृतका के पिता नंद लाल साह के बयान पर पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। प्राथमिकी में प्रीति के ससुर जगदीश साह, सास रमावती देवी, पति विकास साह, देवर संदीप कुमार व सोनू कुमार को नामजद आरोपित बनाया गया है। पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए ससुर जगदीश साह व देवर सोनू साह को गिरफ्तार कर लिया। बाकि फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। 



Find Us on Facebook

Trending News