औरंगाबाद में घर में फांसी के फंदे से लटका मिला किशोरी का शव, हत्या या आत्महत्या सुलझाने में जुटी पुलिस

औरंगाबाद में घर में फांसी के फंदे से लटका मिला किशोरी का शव, हत्या या आत्महत्या सुलझाने में जुटी पुलिस

औरंगाबाद. अम्बा थाना क्षेत्र में संडा पंचायत के किशुनपुर गांव में एक 16 वर्षीय किशोरी की घर में ही फंदे से झूलती लाश बरामद हुई है। मृतका की पहचान गांव के ही अब्दुल कलाम की पुत्री तैयबा परवीन के रूप में हुई है। घटना के बाद पुलिस परिजनों के दो तरह के विरोधाभाषी बयान से पेशोपेश में पड़ी है। मामला हत्या का है या आत्महत्या का है, इसकी तहकीकात करने में पुलिस जुट गयी है।

मृतका के दादा अब्दुल्लाह का कहना है कि फांसी लगाने से किशोरी की मौत हुई है। वहीं मामा का कहना है कि भांजी की हत्या की गई है। मृतका के दादा ने कहा कि तैयबा कहीं जाना चाहती थी, लेकिन उसका पिता अब्दुल ने उसे कही भी जाने से मना कर दिया और उससे उसका मोबाइल छीन लिया। इसके बाद वह अपने कमरे में चली गयी। थोड़ी देर बाद दरवाजा खोलने के लिए आवाज लगायी तो उसने दरवाजा नही खोला। दरवाजा नहीं खोलने पर खिड़की से झांककर देखा तो गले में दुपट्टा लपेटकर कर लटकी हुई थी।

इसके बाद जोरो से झटका देकर दरवाजा खोलकर उसे नीचे उतारा गया। घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। पुलिस की मौजूदगी में किसी तरह से गले मे लिपटे दुपट्टे को काटकर हटाया गया। वहीं इस मामले में मृतका के मामा मो. जाहिद हुसैन का कहना है कि यह आत्महत्या नहीं हत्या है। परिवार वालों द्वारा उसकी हत्या की गई है। मामले में पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कागजी प्रक्रिया पूरी कर पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

मामला हत्या का है या आत्महत्या पुलिस इसकी तहकीकात में जुटी है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही पूरी घटना का पता चल पाएगा। घटना के बाद पूरे परिवारवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। घर में मातम पसरा है।


Find Us on Facebook

Trending News