जातीय जनगणना पर तेजस्वी ने दिया था 72 घंटे का अल्टीमेटम लेकिन नीतीश ने 24 घंटे में ही बुला लिया

जातीय जनगणना पर तेजस्वी ने दिया था 72 घंटे का अल्टीमेटम लेकिन नीतीश ने 24 घंटे में ही बुला लिया

पटना. जातीय जनगणना के मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष की चेतावनी के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को आननफानन में तेजस्वी को मिलने के लिए बुलाया है. दोनों नेताओं की मुलाकात बुधवार शाम साढ़े चार बजे होनी है. सीएम कार्यालय की ओर से तेजस्वी को मिलने के लिए बुलाया गया है. तेजस्वी यादव ने मंगलवार को कहा था कि वे जातीय जनगणना के मुद्दे पर पटना से दिल्ली तक की पदयात्रा करेंगे.

तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जातीय जनगणना को लेकर 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया. उन्होंने सीएम नीतीश पर जातिगत जनगणना नहीं कारने का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से बिहार के संयुक्त प्रतिनिधी मंडल की मुलाकात का करीब सात से आठ महीने हो गया, लेकिन अभी तक इस पर मुख्यमंत्री अपना रूख स्पष्ट नहीं कर पार रहे हैं. उन्होंने सीएम पर आरोप लगाया कि सीएम इस मामले को टालने के मूड में है. इसलिए सीएम को 48 से 72 घंटे का समय दिया गया है. इसके बाद पार्टी अपने स्तर से जातिगत जनगणना के लिए लड़ाई लड़ेगी.

नेता प्रतिपक्ष के अल्टीमेटम के मात्र चौबीस घंटे के भीतर ही सरकार ने तत्परता दिखाई. तेजस्वी के प्रेस कांफ्रेस के 24 घंटे के भीतर ही उन्हें नीतीश कुमार से मिलने का समय दिया गया है. पार्टी प्रवक्ता शक्ति यादव ने कहा कि दोनों नेताओं की मुलाकात में मुख्य रूप से जातीय जनगणना पर बात होगी.



Find Us on Facebook

Trending News