तेजस्वी को राजद की कमान देने के अटकल को पार्टी ने किया ख़ारिज, कहा केवल मीडिया का शगूफा है, जदयू बोली कोई फर्क नहीं पड़ता

तेजस्वी को राजद की कमान देने के अटकल को पार्टी ने किया ख़ारिज, कहा केवल मीडिया का शगूफा है, जदयू बोली कोई फर्क नहीं पड़ता

PATNA : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को राजद की कमान सौंपने की सुगबुगाहट के बाद बिहार में सियासी घमासान तेज हो गया है. राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा की आरजेडी में बदलाव और पार्टी की कमान तेजस्वी यादव को देने का मामला केवल मीडिया का शगुफा है. उन्होंने कहा की क्यों बदलाव होगा और क्या बदलाव होगा. तेजस्वी हमारे नेता हैं. बिहार विधानसभा का चुनाव तेजस्वी के नेतृत्व में ही लड़ा गया. बिना बदलाव के ही कोई कमी नही दिखाई दी. शिवानन्द तिवारी ने कहा की तेजस्वी राष्ट्रीय अध्यक्ष बन जाएंगे तो उससे क्या होगा. राजद को संभालना कोई पहाड़ का काम नहीं है.  लेकिन अभी इसकी जरूरत नही है. अभी भी तेजस्वी ही नेता हैं. 

उन्होंने कहा की तेजस्वी पार्टी का नेतृत्व करेंगे  इस पर लालू यादव, विधायक दल और पार्टी के पदाधिकारियों ने पहले ही मुहर लगा दी है. तेजस्वी यह कभी नहीं चाहेंगे उनके पिता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं रहे और उनसे वे यह पद ले लें. ऐसा तेजस्वी क्यों चाहेंगे इसकी जरूरत क्या है. उन्होंने कहा की राजद के स्थापना दिवस पर पार्टी के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का जबरदस्त भाषण हुआ. मैंने सोचा नहीं था कि लालू तबीयत खराब होने के बाद भी इतना शानदार भाषण दे सकेंगे. लेकिन उन्होंने पूरी तरीके से पॉलिटिकल भाषण दिया. लालू यादव के पास जो तजुर्बा है  और अनुभव है. वह स्कूल और कॉलेज में नहीं पढ़ाया जाता है. तेजस्वी यादव को पिता के अनुभव का लाभ मिल रहा है. उन्होंने फिर कहा की यह मीडिया का ख्याली पुलाव है कि तेजस्वी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेंगे. अभी इसकी कोई जरूरत नहीं है. 

वहीँ जदयू संसदीय दल के नेता उवेन्द्र कुशवाहा ने कहा की तेजस्वी यादव को आरजेडी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाना राजद का मामला है. आरजेडी जिसको चाहे जिम्मेवारी दें. तेजस्वी यादव के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने से जदयू की कोई चुनौती नहीं बढ़ने वाली नही है. आज भी राजद को तेजस्वी यादव ही चला रहे हैं और इस तरह से चला रहे हैं कि लालू राबड़ी की तस्वीर भी पोस्टर से गायब कर देते हैं. 

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News