राष्ट्रपति के कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे तेजस्वी : क्या विधानसभा का सम्मान नहीं करते नेता प्रतिपक्ष

राष्ट्रपति के कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे तेजस्वी : क्या विधानसभा का सम्मान नहीं करते नेता प्रतिपक्ष

PATNA : बिहार विधानसभा भवन के सौ साल हो गए। इस अवसर पर भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पटना आ रहे हैं। कार्यकम के लिए सभी माननियों को निमंत्रण दिया गया है। लेकिन नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इस कार्यक्रम में शामिल होंगे, इसको लेकर संशय की स्थिति बन गई है। बताया जा रहा है कि उपचुनाव को लेकर तेजस्वी का व्यस्त कार्यक्रम है, जिसके कारण वह राष्ट्रपति से जुड़े आयोजन में भाग नहीं लेंगे।

फरवरी में समारोह के आरंभ कार्यक्रम से भी गायब रहे थे तेजस्वी

यह पहली बार नहीं है जब तेजस्वी यादव के विधानसभा शताब्दी समारोह से दूरी बनाने की चर्चा हो रही है। इससे पहले फरवरी में जब शताब्दी समारोह कार्यक्रम का आरंभ किया गया था, उस समय भी तेजस्वी यादव नदारद रहे थे। जिसके बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के विधान सभा के शताब्दी समारोह में नही शामिल होने पर आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि तेजस्वी अपने पिता लालू प्रसाद यादव के इलाज के लिए दिल्ली में हैं इसलिए वो नहीं पहुंच सके हैं। अब चुनाव प्रचार को बहाना बताया जा रहा है।

लालू की आपत्ती के बाद बदल गया कार्यक्रम

मंगलवार को विधानसभा की तैयारियों के बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने सवाल उठाया था और कहा था कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और संगठन महामंत्री किस क्षमता से बिहार विधान सभा भवन के शताब्दी समारोह की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। इसके अलावा राष्ट्रपति के सामने तेजस्वी को संबोधन के लिए सिर्फ तीन मिनट का समय दिया गया है, जबकि सीएम नीतीश कुमार को 10 मिनट का समय दिया गया है। माना जा रहा है कि इन्हीं कारणों से तेजस्वी ने शताब्दी समारोह से दूरी बनाने का फैसला लिया है।

तेजस्वी यादव का कार्यक्रम 
 नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के चुनावी कार्यक्रमों के अनुसार, वे 20 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक दिन-रात दरभंगा में ही रहेंगे और कुशेश्वरस्थान में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे। रात में भी वहीं विश्राम करेंगे। 20 अक्टूबर को सुबह 10 बजे वे पटना से दरभंगा के लिए रवाना होंगे। रात्रि विश्राम वहीं करेंगे और 21 अक्टूबर को सुबह 10 बजे दरभंगा के कुशेश्वरस्थान विधान सभा के प्रखंड कुशेश्वरस्थान जाएंगे।

वहां विभिन्न पंचायतों में स्थानीय कार्यक्रमों में भाग लेंगे। शाम 4 बजे वापस सोनकी ओपी, दरभंगा लौटेंगे और वहीं रात्रि विश्राम करेंगे। 22 अक्टूबर और 23 अक्टूबर को भी वे कुशेश्वरस्थान विधानसभा में ही रहेंगे। 23 अक्टूबर की रात वे पटना लौटेंगे। बता दें कि बिहार विधान सभा में 21 अक्टूबर को आयोजन है जिसमें राष्ट्रपति 10.50 में शामिल होंगे।

Find Us on Facebook

Trending News