तेजस्वी यादव का कांग्रेस प्रेम ! पार्टी की एक महिला उम्मीदवार से वैर, दूसरी महिला प्रत्याशी के चुनाव प्रचार में खूब बहा रहे पसीना

तेजस्वी यादव का कांग्रेस प्रेम ! पार्टी की एक महिला उम्मीदवार से वैर, दूसरी महिला प्रत्याशी के चुनाव प्रचार में खूब बहा रहे पसीना

पटना- तेजस्वी यादव का कांग्रेस की एक महिला उम्मीदवार से वैर है तो उसी पार्टी की दूसरी महिला उम्मीदवार से प्रेम. तभी तो कांग्रेस की एक महिला उम्मीदवार को तेजस्वी यादव देखना भी नहीं चाहते और दूसरे उम्मीदवार के लिए खूब पसीना बहा रहे हैं. हम बात कर रहे हैं कांग्रेस पार्टी की 2 महिला उम्मीदवारों की. वे हैं सुपौल की प्रत्याशी रंजीत रंजन और दूसरी मुंगेर की कांग्रेस उम्मीदवार नीलम देवी.

सुपौल की कांग्रेस प्रत्याशी रंजीत रंजन दूसरी बार संसद पहुंचने के लिए इस बार फिर से चुनाव मैदान में हैं. उनके चुनाव प्रचार में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, उपेंद्र कुशवाहा और जीतन राम मांझी ने चुनावी सभा की. लेकिन तेजस्वी यादव और उनकी पार्टी आरजेडी पूरी तरह से अलग रही. तेजस्वी यादव ने रंजीता रंजन के लिए एक भी जनसभा नहीं किया. सिर्फ तेजस्वी यादव ही नहीं बल्कि आरजेडी के बाकी नेता भी  सुपौल की कांग्रेस प्रत्याशी रंजीत रंजन से दूरी बना कर रहे.

ऐसी खबर है कि तेजस्वी यादव रंजीत रंजन और उनके पति पप्पू यादव को देखना नहीं चाहते. इसी वजह से वे इस कोशिश में थे कि किसी तरह से रंजीत रंजन चुनाव हार जाएं. इसके लिए सुपौल जिले के तमाम राजद कार्यकर्ता और विधायक ने एक निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थन में खुलकर मैदान में आ गए. राजद ने कांग्रेस प्रत्याशी रंजीत रंजन को हराने के लिए जी तोड़ मिहनत किया. 

इसके पीछे की जो वजह यह थी तेजस्वी यादव और उनका परिवार पप्पू यादव को आगे नहीं देखना चाहते. रंजीत रंजन से वैर की दूसरी बड़ी वजह थी कि रंजीत रंजन के पति पप्पू यादव ने शरद यादव के खिलाफ मधेपुरा से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं. लालू परिवार की कोशिश थी कि पप्पू यादव शरद यादव के लिए मधेपुरा के मैदान से बाहर आ जाएं. लेकिन पप्पू यादव इसके लिए तैयार नहीं हुए. लिहाजा तेजस्वी ने उसका बदला उनकी पत्नी रंजीत रंजन के चुनाव प्रचार में ना जा कर चुका दिया.

अब हम बात करते हैं कांग्रेस के दूसरे प्रत्याशी नीलम देवी की. नीलम देवी मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी हैं. वे मुंगेर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस की उम्मीदवार हैं. तेजस्वी यादव की अनंत सिंह से भी 36 का रिश्ता था. वे नहीं चाहते थे कि अनंत सिंह को कांग्रेस पार्टी मुंगेर से टिकट दे. लेकिन तेजस्वी यादव की विरोध के बाद भी कांग्रेस ने अनंत सिंह की बजाए उनकी पत्नी नीलम देवी को टिकट दे दिया.

अब तेजस्वी यादव नीलम देवी के चुनाव प्रचार में खूब पसीना बहा रहे हैं पहले तो कहा जा जा रहा था कि तेजस्वी यादव अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी के चुनाव प्रचार में नहीं जाएंगे. लेकिन चुनाव से कुछ दिन पहले इसके लिए राजी हो गए और गुरुवार को उन्होंने मुंगेर में पहली जनसभा की. इसके बाद आज एक बार फिर से तेजस्वी यादव मोकामा में नीलम देवी के पक्ष में जनसभा कर रहे हैं.

Find Us on Facebook

Trending News