किसान बिल के खिलाफ तेजस्वी यादव करेंगे आंदोलन, 25 सितंबर को पूरे बिहार में होगी बिगुल की शुरूआत

किसान बिल के खिलाफ तेजस्वी यादव करेंगे आंदोलन, 25 सितंबर को पूरे बिहार में होगी बिगुल की शुरूआत

पटना : राज्यसभा में विपक्ष के जोरदार हंगामे के बीच रविवार को कृषि क्षेत्र से जुड़े विधेयक संसद में पास हो गए. राज्यसभा में कृषि विधेयक ध्वनि मत से पास हो गया. तो दूसरी तरफ इस विधेयक का जोरदार विरोध भी हो रहा है. कृषि से जुड़े 2 बिल पास होने के विरोध में आरजेडी बड़ा आंदोलन करने की तैयारी कर रही है. आरजेडी कल यानी सोमवार को प्रेस कॉन्फेंस करने वाली है. इस प्रेस कॉन्फेंस में आरजेडी एलान करेगी. आखिर किस तरीके किसान बिल के विरोध में आंदोलन किया जाएगा. 

जानकारी के मुताबिक आरजेडी आगामी 25 सितंबर को एक साथ पूरे बिहार में आंदोलन करेगी. सूत्रों की मानें तो इस दिन तेजस्वी यादव भी सड़कों आकर विरोध प्रदर्शन में शामिल होंगे. वहीं आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा है कि किसान बिल से किसानों को सिर्फ और सिर्फ नुकसान होने वाला है. निजी कंपनियां इतने पैसे लोन पर किसानों को दे देगी कि एक दिन किसान अपनी जमीन देने को मजबूर हो जाएंगे. 25 सितंबर को पूरे देश के किसान सड़क पर होंगे. बिहार के किसान भी उस दिन अपनी लड़ाई को लड़ेंगे. ये रोटी की लड़ाई है, इसी रोटी के अभाव में हमारे युवा बिहार जा रहे हैं. हम इन बेरोजगारों की लड़ाई लड़ने चले हैं. केंद्र सरकार संसाधन को अरबपतियों और खरबपतियों को दे देना चाहते हैं. कल आरजेडी के तरफ से इस मुद्दे को लेकर प्रेस कॉन्फेंस का आयोजन किया जाएगा. और विस्तार से बताया जाएगा कि आरजेडी इसके खिलाफ किस तरीके से आंदोलन करने वाली है. 

बता दें कि राज्यसभामें विपक्ष के जोरदार हंगामे के बीच रविवार को कृषि क्षेत्र से जुड़े विधेयक संसद में पास हो गए. राज्यसभा में कृषि विधेयक ध्वनि मत से पास हो गया. इस दौरान, विपक्षी पार्टी के सांसदों ने 'तानाशाही बंद करो' के नारे भी लगाए. विपक्षी सांसदों के हंगामे के चलते एक बार 10 मिनट के लिए राज्यसभा की कार्यवाही को स्थगित भी करना पड़ा. इन विधेयकों के संसद से पारित हो जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि आज भारत के कृषि इतिहास में एक बड़ा दिन है. प्रधानमंत्री ने एक के बाद एक कई ट्वीट्स के जरिए अपनी बात कही. अपने पहले ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा, "भारत के कृषि इतिहास में आज एक बड़ा दिन है. संसद में अहम विधेयकों के पारित होने पर मैं अपने परिश्रमी अन्नदाताओं को बधाई देता हूं. यह न केवल कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगा, बल्कि इससे करोड़ों किसान सशक्त होंगे. " 


Find Us on Facebook

Trending News