तेजस्वी यादव ने कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व को दिखाया ठेंगा, कहा- मेरी बात राहुल गांधी और अहमद पटेल से हो रही

तेजस्वी यादव ने कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व को दिखाया ठेंगा, कहा- मेरी बात राहुल गांधी और अहमद पटेल से हो रही

PATNA : बिहार में महागठबंधन की करारी हार पर मंथन के लिए राबड़ी आवास पर सहयोगी दल के नेता इकट्ठे हुए। लेकिन उक्त बैठक से कांग्रेस पार्टी ने कन्नी काट ली।बैठक में कांग्रेस का कोई नेता शामिल नहीं हुआ। महागठबंधन की समीक्षा बैठक में कांग्रेस नेताओं के शामिल नहीं होने पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी बात राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, प्रियंका और अहमद पटेल से हो रही है। 

तेजस्वी यादव ने कहा कि वो कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओं से वे लगातार संपर्क में हैं। वे खुद दिल्ली में आयोजित होने वाली बैठक में शिरकत करेंगे ।उस बैठक में यूपीए की हार की समीक्षा होगी।तेजस्वी ने कहा कि जब वे लगातार कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में हैं तो फिर कांग्रेस के अलग होने का सवाल कहां है।   

तेजस्वी के ताजा बयान से माना जा रहा है कि उन्होंने कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व को ठेंगा दिखा दिया है। कांग्रेस के स्थानीय नेताओं की वे परवाह नहीं करते हैं। उनकी बात सीधे राहुल गांधी से होती है। लालू यादव भी अपने दौर में सीधे सोनिया गांधी से बात करने का दावा करते थे।

बिहार कांग्रेस ने बैठक से बना ली थी दूरी

बता दें कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन को मिली करारी हार के बाद  आज राबड़ी देवी के आवास पर समीक्षा बैठक थी।लेकिन बैठक से कांग्रेस नेताओं ने दूरी बना ली। 

राबड़ी आवास पर महागठबंधन के नेता  कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष या उनके प्रतिनिधि का इंतजार करते रह गए लेकिन बैठक में न तो अध्यक्ष आए और न कोई दूसरा नेता। आखिरकार बिना कांग्रेस के हीं बैठक शुरू हुई। बैठक में तेजस्वी यादव,राबड़ी देवी शरद यादव,उपेन्द्र कुशवाहा,मुकेश सहनी और जीतनराम मांझी की तरफ से उनके बेटे मौजूद थे।

Find Us on Facebook

Trending News