बेरोजगारों के बीच फंसे तेजस्वी यादव, पटना में शिक्षक अभ्यर्थियों ने रोका उप मुख्यमंत्री काफिला

बेरोजगारों के बीच फंसे तेजस्वी यादव, पटना में शिक्षक अभ्यर्थियों ने रोका उप मुख्यमंत्री काफिला

पटना. उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को मंगलवार को बेरोजगारों की भीड़ ने पटना में घेर लिया. शिक्षक अभ्यर्थियों ने तेजस्वी यादव को उनके आवास से निकलते ही घेर लिया. तेजस्वी मंगलवार को पटना में अपने सरकारी आवास से निकल रहे थे, उसी दौरान शिक्षक अभ्यर्थियों ने उनके काफिले को घेरा और नियुक्ति से जुडी प्रक्रिया पर ज्ञापन सौंपा. 

हालांकि बेरोजगारों की भीड़ से घिरे तेजस्वी ने बेहिचक अपनी कार का दरवाजा खोला और ज्ञापन लिया. उन्होंने सभी को आश्वासन दिया कि सरकार उनकी मांगों पर गंभीरता से गौर करेगी और जल्द ही इस दिशा में काम होगा. कुछ समय तक सड़क पर ही तेजस्वी का काफिला रुका रहा. बाद में वे वहां से अपने आगे के गन्तव्य की ओर रवाना हो गए. साथ ही शिक्षक अभ्यर्थियों ने भी आशा जताई कि तेजस्वी अपने वादों पर खड़े उतरेंगे और उनकी नौकरी और न्युक्ति से जुडी मांगों पर जल्द फैसला लेंगे. 


दरअसल, यह पहला मौका नहीं है जब तेजस्वी को बेरोजगारों ने घेरा है. 9 अगस्त को राज्य में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद से ही तेजस्वी को लोग 10 लाख रोजगार देने के उनके वादे को याद दिला रहे हैं. इसी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस पर भी सकारात्मक संदेश दिया था. वहीं तेजस्वी कई बार दोहरा चुके हैं कि वे अपने वादे पर अडिग हैं. लेकिन रोजगार के वादे को पूरा करने के लिए उन्हें कुछ समय चाहिए. 

इस बीच, शिक्षक अभ्यर्थियों का कहना कि उन्हें महीनों से इंतजार कराया जा रहा है. पिछले कई महीनों से बार बार नियुक्ति को लेकर सिर्फ आश्वान ही मिला है. ऐसे में वे अब तेजस्वी यादव से उम्मीद लगाए हैं. इसी कारण उन्होंने तेजस्वी को अपना ज्ञापन सौंपा है. इसके पहले भी पिछले कुछ दिनों के दौरान युवाओं की कई टोलियों ने तेजस्वी यादव को अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा है. 


Find Us on Facebook

Trending News