पिता की विरासत को बखूबी संभालनेवाले तेजस्वी यादव तोड़ देंगे लालू परिवार की यह परंपरा, पुराने लव को देंगे नई पहचान

पिता की विरासत को बखूबी संभालनेवाले तेजस्वी यादव तोड़ देंगे लालू परिवार की यह परंपरा, पुराने लव को देंगे नई पहचान

PATNA : बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव कल सगाई करने जा रहे हैं। कल नई दिल्ली में महरौली के सैनिक फार्म तेजस्वी यादव एक रिश्ते में बंध जाएंगे। जिसके लिए लालू प्रसाद का पूरा परिवार पहले ही दिल्ली में पहुंच चुका है। इसके साथ जो सबसे बड़ी बात सामने आई है कि तेजस्वी की होनेवाली दुल्हनियां गैर यादव परिवार से ताल्लुक रखती हैं। बताया गया कि वह तेजस्वी की बचपन की दोस्त है और कई साल से दोनों एक दूसरे के संपर्क में रहे हैं। अब दोनों इस संबंध को शादी के बंधन में बांधने के लिए तैयार हैं।

तोड़ देंगे परिवार की पुरानी परंपरा

तेजस्वी यादव को लालू यादव का राजनीतिक वारिस माना जाता है और उन्होंने अपने पिता के काम को बखूबी तरीके से आगे बढ़ाया है। राजद आज बिहार की सबसे बड़ी पार्टी है, जिसमें तेजस्वी यादव की बड़ी भूमिका रही है। लेकिन बात अब शादी की करें तो वह लालू परिवार की एक परंपरा को तोड़ने जा रहे हैं। जहां लालू प्रसाद ने अपने सभी सातों बेटियों और बेटे तेज प्रताप की शादी यादव जाति में की है, वहीं तेजस्वी यादव जिस लड़की से शादी करने  जा रहे हैं, वह यादव जाति से संबंधित नहीं है। बताया जा रहा है कि तेजस्वी की होनेवाली पत्नी हिन्दू भी नहीं है और वह ईसाई धर्म से संबंधित से ताल्लुक रखती है।

तेजस्वी की दुल्हन का संबंध इस राजनीतिक खानदान से

तेजस्वी की सगाई को लेकर जो खबरें सामने आई है, उसके अनुसार तेजस्वी की होनेवाली दुल्हन भी राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखती है। बताया गया कि वह पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की रिश्तेदार है। दो साल पहले तेजस्वी के भावी ससुराल ने पूरे परिवार के साथ ईसाई धर्म अपना लिया था। 

डीपीएस स्कूल में करते थे पढ़ाई

तेजस्वी यादव ने जिस युवती को अपना दिल दिया है, बताया जा रहा है कि उनके साथ यह आशिकी नई नहीं है। दोनों बचपन से एक दूसरे को जानते हैं। पटना डीपीएस में दोनों ने एक साथ पढ़ाई की है। इसके बाद से दोनों एक दूसरे के संपर्क में रहे हैं और अब इसे रिश्ते को नया नाम देने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।


 


Find Us on Facebook

Trending News