तेजस्वी यादव की यूथ पॉलिटिक्स का राज , हमला तो बहाना है मकसद युवाओं को पाले में लाना है

तेजस्वी यादव की यूथ पॉलिटिक्स का राज , हमला तो बहाना है मकसद युवाओं को पाले में लाना है

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव का काउंटडाइन शुरू हो चुका है. चुनावी अखाड़े में जोर आजमाइश से पहले राजनीतिक पार्टियां मुद्दों को लपकने में लगी हैं. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार चुनावी मैदान में उतरने से पहले सीएम नीतीश पर हमला कर रहे हैं. तेजस्वी यादव इस बार चुनाव में बेरोजगारी के मुद्दे और युवाओं पर फोकस कर रहे हैं. इस सिलसिले में तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से सीएम नीतीश को घेरा है. लेकिन तेजस्वी यादव कती यूथ पॉलिटिक्स का क्या राज है? आखिर क्यों तेजस्वी यादव बार बार युवाओं का मुद्दा उठा रहे हैं?

युवाओं को कितना ठगना है
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आज भी ट्वीट कर बेरोजगारी और युवाओं के भविष्य के मद्दे पर सीएम नीतीश कुमार से सवाल पूछा है. तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया है कि बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार बेरोज़गारी पर बात करने से डरते क्यों है?क्या बिहार को बेरोज़गारी का मुख्य केंद्र बनाने के बाद उन्हें शर्म आती है? क्या नौकरियों में धाँधली और बिहार के उद्योग-धंधे बंद करवाने के बाद भी वह युवाओं को भ्रमित कर और अधिक ठगना चाहते है?

युवाओं पर क्यों फोकस कर रहे हैं तेजस्वी
तेजस्वी यादव लगातार युवाओं के मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने में लगे हैं. लेकिन सवाल ये है कि तेजस्वी यादव लगातार युवाओं के मुद्दे को क्यों टारगेट कर रहे हैं. राजनीतिक जानकार बताते हैं कि इस बार 17 लाख नए युवा इस बार विधानसभा में अपने वोट का इस्तेमाल करेंगे. तेजस्वी जानते हैं कि इस यूथ वोट को लपक लिया तो कुर्सी तक का रास्ता आसान हो सकता है. लिहाजा तेजस्वी यादव लगातार युवाओं के मुद्दे पर सरकार को घेर कर युवाओं को खुद की और खींचना चाहते हैं.वहीं जेडीयू का भी पूरा फोकस इस बात पर है कि नए वोटरों को लालू राज का किस्सा बताया जाए ताकि वो जान सके उस राज और इस राज में क्या अंतर है. इनसब के बीच देखना ये है कि आखिर यूथ किसका साथ देता है.

Find Us on Facebook

Trending News