तेज का ट्ठीट, नवरात्र में मां से की आराधना, कहा- बालिकागृह कांड जैसा घिनौना कुकृत्य करने वाले राक्षसों का उद्धार करना

तेज का ट्ठीट, नवरात्र में मां से की आराधना, कहा- बालिकागृह कांड जैसा घिनौना कुकृत्य करने वाले राक्षसों का उद्धार करना

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव आते ही सभी राजनीकि दलों के नेता जनता के बीच पूरी तरह सक्रिये हैं। इस बीच आज से नवरात्र शुरू होने पर राजनीतिक दलों के नेताओं ने बिहार की जनता को नवरात्र की शुभकामनाएं दी हैं। इस बीच राजद नेता और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने ट्ठीट कर लोगों को नवरात्र की बधाई देने के साथ-साथ कहा कि हे जनमानस, बालिका गृहकांड जैसा घिनौना कुकृत्य करने वाले सृजनकारी राक्षसों का इस नवरात्र उद्धार जरूर करना। उनके ट्टीट के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि राजनीतिक दल के नेता सिर्फ चुनावी सभाओं में ही नहीं बल्कि सोशल मीडिया पर भी सक्रिये दिख रहे हैं। हालाकि तेजप्रताप ने बधाई के साथ बालिका गृहकांड के मुद्दे को जोडकर कहीं न कहीं राजनीति को साधने की कोशिश की है। दरअसल नवरात्रि को उन्होंने मुजफपुर बालिका गृहकांड से जोड़ते हुए सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ हमला बोलने के लिए इस्तेमाल किया है। 


बता दें कि नवरात्र के मौके पर महागठबंधन ने मेनिफेस्टो जारी करते हुए बिहारवासियों को शुभकामनाएं भी दी। इस मौके पर तेजप्रताप यादव के साथ उनके छोटे भाई और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी मौजूद रहे और उन्होंने भी नवरात्र की बधाई लोगों को दी। इस अवसर पर राजद ने नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान लोगों से किया है। इस मौके पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हमने अपने घर में कलश स्थापित कर संकल्प लिया है कि प्रण हमारा संकल्प बदलाव का ये सच होने वाला है। 

इस पहले तेज प्रताप यादव की मां और सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी ट्ठीट कर नीतीश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने अपने ट्ठीट में कहा है  िकनाम मत लो उनका। नीतीश ने उन्हें टिकट देने का काम किया है जो 34 अनाथ बच्चियों के साथ बलात्कार होने के जिम्मेदार हैं। बिहार को उन्होंने बलात्कारियों का प्रदेश बना दिया है। 


Find Us on Facebook

Trending News