क्या वाकई ससुर जी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगें तेजप्रताप? विरोध के बावजूद चंद्रिका राय को मिल गया है टिकट

क्या वाकई ससुर जी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगें तेजप्रताप? विरोध के बावजूद चंद्रिका राय को मिल गया है टिकट

PATNA : तेजप्रताप यादव की लाख कोशिशों के बावजूद आखिरकार उनके ससुर चंद्रिका राय को टिकट मिल ही गया। तेज चंद्रिका राय को लोकसभा का टिकट दिए जाने के सख्त खिलाफ थे। अपनी पत्नी ऐश्वर्या के साथ चल रहे तलाक के केस में भी तेजप्रताप ने यह आरोप लगाया था कि उनकी पत्नी अपने पिता को चुनाव का टिकट दिलाने के लिए दबाव बनाती हैं। 

तेजप्रताप यादव की सारी मोर्चेबंदी धरी रह गई और पार्टी ने चंद्रिका राय को सारण से चुनाव लड़ने का टिकट दे दिया। माना जा रहा है कि तेज और ऐश्वर्या के रिश्तों में आई खटास से हुई सामाजिक किरकिरी से निपटने के लिए लालू परिवार ने चंद्रिका राय को उम्मीदवार बनाया है। चंद्रिका राय बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. दारोगा प्रसाद राय के बेटे हैं और सारण क्षेत्र में उनके परिवार की अपनी एक अलग प्रतिष्ठा रही है। लालू परिवार चंद्रिका राय की जगह किसी अन्य को सारण से उम्मीदवार बनाकर कोई नया जोखिम लेने की स्थिति में नहीं था। 

चंद्रिका राय की उम्मीदवारी पर मुहर लगने के बाद अब सबकी नजरें इस बात पर टिकी हैं कि दामाद तेजप्रताप अपने ससुर जी से कैसे निपटते हैं? हालांकि चंद्रिका राय की उम्मीदवार बनाने की घोषणा के साथ ही यह चर्चा तेज हो गई है कि तेजप्रताप यादव भी सारण लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगें। हालांकि तेज ने अबतक आधिकारिक तौर पर कोई एलान नहीं किया है लेकिन इतना तो तय है कि तेजप्रताप यादव शांत नहीं बैठेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News