नीतीश कुमार पर प्याज फेंकने की घटना की नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने निंदा की, कहा- लोकतंत्र में ये ठीक नहीं

नीतीश कुमार पर प्याज फेंकने की घटना की नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने निंदा की, कहा- लोकतंत्र में ये ठीक नहीं

पटना... बिहार विधानसभा चुनाव के लिए दो चरणों का मतदान हो चुका है। ऐसे में तीसरे चरण के मतदान से पहले सभी नेताओं ने अपनी पार्टी के प्रचार के लिए पूरा जोर लगा दिया है। इस बीच मंगलवार को नीतीश जब हरलाखी में सभा कर रहे थे तो भीड़ से किसी युवक ने उनपर प्याज फेंक दिया। इस घटना के बाद सभी ने इसकी तीखी आलोचना की है। इस घटना को लेकर उनके प्रमुख विरोधी आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी नाराजगी जताई है। तेजस्वी यादव ने इस बारे में ट्विटर पर टिप्पणी की है। तेजस्वी ने मंगलवार रात किए अपने ट्वीट में लिखा है, कि आज चुनावी सभा में किसी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी की ओर प्याज फेंकी। यह पूर्णतः निंदनीय, अलोकतांत्रिक और अवांछनीय व्यवहार है। लोकतंत्र में प्रतिरोध की अभिव्यक्ति सिर्फ मतदान में होनी चाहिए और इसके अलावा कोई भी तरीका स्वीकार्य नहीं हो सकता।


आपको बता दें कि नीतीश कुमार मंच से जब अपना भाषण दे रहे थे तो नीचे से मंच की ओर किसी शख्स ने प्याज और पत्थर के टुकड़े फेंके। इस दौरान पत्थर फेंकने वाले शख्स ने लगातार नारेबाजी की और कहा कि शराब खुलेआम बिक रही है, तस्करी हो रही है लेकिन आप कुछ नहीं कर पा रहे हैं।

उसी दौरान जब नीतीश कुमार के सुरक्षाकर्मियों ने उस शख्स को रोकने का प्रयास किया तो नीतीश कुमार कहते नजर आए कि फेंकने दो, जितना फेंकना है फेंकने दो।

पहले भी हो चुका है विरोध

आपको बता दें कि इस बार चुनाव प्रचार के दौरान नीतीश कुमार को कई बार विरोध का सामना करना पड़ा है। कई रैलियों में नीतीश कुमार के सामने ही उनके खिलाफ नारेबाजी की गई है, जबकि खुद नीतीश ने भी नारेबाजी करने वाले लोगों को टोका है।

मुजफ्फरपुर की रैली में भी नीतीश के सामने ही कुछ लोगों ने लालू यादव जिंदाबाद के नारे लगाए थे, तब मंच से ही नीतीश ने कहा था कि जिसके जिंदाबाद के नारे लगा रहे हो उसे ही सुनने जाओ, यहां क्यों आए हो। इसके अलावा कुछ जगहों पर नीतीश को काला झंडा दिखाया गया था।


Find Us on Facebook

Trending News