एनडीए की जीत में तेजस्वी के लिए बंपर टेंशन, 80 विधायकों वाली आरजेडी को मिली सिर्फ 9 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त

एनडीए की जीत में तेजस्वी के लिए बंपर टेंशन, 80 विधायकों वाली आरजेडी को मिली सिर्फ 9 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त

PATNA : लोकसभा चुनाव में बिहार में आरजेडी का सूपड़ा साफ हो गया है। लोकसभा चुनाव परिणाम ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के अरमानों को बड़ा झटका दिया है। आरजेडी को सिर्फ 9 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त मिली है। जबकि एनडीए को 225 विधान सभा क्षेत्रों में बढ़त मिली है।

 बिहार महागठबंधन की हालात नाम बड़े और दर्शन छोटे वाली हो गई है। लोकसभा चुनाव नतीजों के हिसाब से देखें तो बिहार के 243 विधानसभा क्षेत्रों में से एनडीए को 225 जबकि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ी महागठबंधन को महज 18 सीटों पर ही बढ़त हासिल हुई। 80 विधायकों वाली आरजेडी को सिर्फ 9 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त मिली है।

बता दें कि इस बार लोकसभा चुनाव में बिहार में एनडीए ने 39 सीटों पर सफलता हासिल की है। जबकि एक सीट (किशनगंज) पर कांग्रेस को जीत मिली है वहीं पहली बार ऐसा हुआ कि आरजेडी के एक भी सांसद का खाता तक नहीं खुला। वहीं अगर विधानसभा में बढ़त के हिसाब से देखें तो विधानसभा की सिर्फ 18 सीटों पर महागठबंधन आगे है। प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के क्षेत्र राघोपुर में सिर्फ 242 वोटों से आरजेडी को बढ़त मिली है।

नाम बड़े और दर्शन छोटे

इसके अलावा मुकेश सहनी की वीआईपी को एक भी विधानसभा सीट पर बढ़त नहीं मिली जबकि लोकसभा की पांच सीटों पर चुनाव लड़ने वाली उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा को सिर्फ एक विधानसभा क्षेत्र में बढ़त मिली है। आरजेडी को 9 और कांग्रेस को मात्र 5 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त मिली है। जबकि हम को 2 और माले को सिर्फ 1 सीट पर बढ़त मिली है।

एनडीए को 225 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त

निर्वाचन आयोग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक एनडीए के घटक दलों को 225 विधानसभा सीटों पर बढ़त मिली है। इसमें बीजेपी को 96, जदयू को 94 और लोजपा को 35 सीटों पर बढ़त मिली है। नेता विपक्षी दल तेजस्वी यादव के विधानसभा क्षेत्र राघोपुर में मात्र 242 वोटों की बढ़त आरजेडी को मिली है। मुंगेर लोकसभा क्षेत्र में मात्र मोकामा में कांग्रेस को 869 वोटों की बढ़त मिली है।

रालोसपा को काराकाट लोकसभा क्षेत्र में सिर्फ गोह विधानसभा क्षेत्र में बढ़त मिली है, जबकि हम के उपेंद्र प्रसाद को औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्र के रफीगंज और गुरुआ विधानसभा में बढ़त मिली है। माले को सिर्फ आरा के अगिआंव विधानसभा क्षेत्र में बढ़त मिली है। कांग्रेस के तारिक अनवर को कटिहार के बलरामपुर विधानसभा क्षेत्र में लगभग 54 हजार की बढ़त मिली है।

पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के मनेर, मसौढ़ी और पालीगंज विधानसभा क्षेत्र में आरजेडी की मीसा भारती को बढ़त मिली है, जबकि जहानाबाद में आरजेडी के सुरेंद्र यादव को जहानाबाद, घोसी और मखदुमपुर विधानसभा क्षेत्र में बढ़त मिली है। अररिया लोकसभा क्षेत्र के अररिया और जोकीहाट में आरजेडी को बढ़त मिली है।

किशनगंज लोकसभा क्षेत्र में कांग्रसे के मो. जावेद निर्वाचित हुए हैं, उन्हें सिर्फ अमौर और बायसी विधानसभा क्षेत्र में बढ़त मिली है। आरजेडी के प्रमुख नेता और विधायक अब्‍दुल बारी सिद्दीकी, चंद्रिका राय, ललि‍त यादव, तेज प्रताप यादव, सुरेंद्र यादव अपने विधानसभा क्षेत्रों में पिछड़ गए हैं। वहीं हम के जीतनराम मांझी भी अपने विधानसभा में पीछे रहे। बिहार महागठबंधन के लिए ये चुनाव परिणाम खतरे की घंटी मानी जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News