BIHAR NEWS : ठगी के आरोप में महिला सहित दो नाबालिग को लोगों पकड़ा, पुलिस के किया हवाले

BIHAR NEWS : ठगी के आरोप में महिला सहित दो नाबालिग को लोगों पकड़ा, पुलिस के किया हवाले

AURANGABAD : जिले के दाउदनगर थाना क्षेत्र के बाजार में दो दुकानदारों को ठगने के आरोप में एक महिला समेत तीन शातिरों को स्थानीय लोंगो ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. पकड़े गये लोंगो में दो नाबालिग लड़कियां भी हैं. इन पर शहर के दो ज्वेलरी दुकानदारों ने करीब 50 हजार का चूना लगाने का आरोप लगाया है. दूकानदार विनोद प्रसाद और शेष नारायण प्रसाद की दुर्गा पथ स्थित जेवर दुकान है. दूकानदार का आरोप है कि वह महिला अपने साथ दो नाबालिग लड़कियों को लेकर दुकान में गयी. कान की बाली देखने के लिये मांगी. विनोद की दुकान पर एक बाली अपने पास रख कर उसकी जगह पर पीतल की बाली रख कर चल गयी. जब दुकानदार को शक हुआ तो उसे पकड़ने के लिये पीछा करने लगा. 

उससे पहले शेष नारायण प्रसाद की दुकान से भी सोने की दो बाली की जगह पीतल की बाली रखकर वह निकल गयी थी. इस बीच शेष नारायण एवं अन्य दुकानदार भी साथ हो गये. तीनों को लखन मोड़ के पास पकड़ कर पुलिस के हवाले दुकानदारों ने कर दिया. थाना में प्रभारी थानाध्यक्ष बीरेन्द्र पासवान ने तीनों से पूछताछ की. उसके पास से नकली चांदी के दो पायल और स्कूटी का चाभी मिला. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है. प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया गया है. सूत्रों के अनुसार थाने में होने के बावजूद महिला अपना नाम व पता सही नहीं बता रही है. पहले उसने खुद को दाउदनगर का निवासी बताया. फिर औरंगाबाद कॉलेज मोड़ का निवासी बताया. उसके पास से स्कूटी की चाबी मिली है. 

लेकिन महिला कहती रही कि वह स्कूटी औरंगाबाद छोड़कर यहां बस से आई है. दाउदनगर आने का कारण दवा खरीदना बताया. बड़ा सवाल यह है कि क्या औरंगाबाद शहर में मेडिकल की दुकाने नही है कि जिला छोड़ कर दवा खरीदने तीनों शातिर औरंगाबाद से 36 किलोमीटर दूरी तय कर दाउदनगर गई. फिर जेवर खरीदने के लिए औरंगाबाद से दाउदनगर आने की बात कही. जबकि औरंगाबाद में जेवर की बड़ी-बड़ी दुकानें हैं. इस बारे में जब एस पी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि तीनों शातिर चोर को गिरफ्तार कर लिया गया है.  वही कोरोना टेस्ट करा कर जेल भेज दिया जाएगा. 

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News