सिवान में 'अपहृत' महिला खुद पहुंची पुलिस थाना, बोली- नहीं हुआ मेरा अपहरण, पति पर ही लगाया गंभीर आरोप

सिवान में 'अपहृत' महिला खुद पहुंची पुलिस थाना, बोली- नहीं हुआ मेरा अपहरण, पति पर ही लगाया गंभीर आरोप

सिवान. जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र से लापता हुई महिला खुद चलकर थाने पहुंच गई, इससे पुलिस थाना में अफरा-तफरी मच गयी। दरअसल, पुलिस जिस महिला के अपहरण का मामला दर्ज कर  बरामदगी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही थी, वही महिला नकाब पहनकर खुद थाने पहुंच गई। महिला नौतन थाना क्षेत्र निवासी सोनू कुमार सिंह की पत्नी स्वाति सिंह है।

मीडिया से बात करते हुए स्वाति सिंह ने कहा कि उनका अपहरण नहीं हुआ था, बल्कि वो अपने पति के डर से ससुराल छोड़कर छुपी हुई थी। महिला ने कहा कि पति ने अपनी करतूत छुपाने के लिए जीवन यादव पर झूठा मुकदमा दर्ज करवा दिया था, जिसकी जानकारी मुझे हुई। उसके बाद मैं खुद सामने आ गई। इतना ही नहीं महिला ने 17 अक्टूबर को मुफस्सिल थाना में आवेदन देकर अपने पति और ससुराल वालों से जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी।

20 अक्टूबर को महिला के पति ने मुफस्सिल थाने में आवेदन देकर महिला के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करवा दी और एक व्यक्ति जीवन यादव पर अपहरण का आरोप लगाया। हालांकि महिला ने अपने दिए बयान में कहा है कि इसमें जीवन यादव का कोई लेना देना नहीं है। बस  उनको मैं समाजसेवी के रूप में जानती हूं। मुफस्सिल थाना पुलिस महिला का बयान लेने के बाद उसे सीजीएम कोर्ट लेकर आई, यहां उसने मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दर्ज करवाया। 

वहीं इस पूरे मामले में पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। पुलिस ने महिला के पति के आवेदन पर तत्परता दिखाते हुए 20 अक्टूबर को जीवन यादव पर एफआईआर दर्ज कर महिला की बरामदगी के लिए छापेमारी शुरू कर दी। वहीं पुलिस ने महिला द्वारा दिये गये मुफस्सिल थाना में 17 अक्टूबर के आवेदन पर त्वरित कार्रवाई नहीं की। बताया जा रहा है कि जीवन यादव पिछले 17 अक्टूबर से ही गंभीर रूप से बीमार है और गोरखपुर में उनका इलाज चल रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News