इस स्कूल में चल रही शिक्षकों की मनमानी, आजिज छात्रों ने सिखाया सबक

इस स्कूल में चल रही शिक्षकों की मनमानी, आजिज छात्रों ने सिखाया सबक

KHAGARIA: यूं तो बिहार के मुख्यमंत्री शिक्षा व्यवस्था सुचारू रखने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे, मगर सरकारी शिक्षक ही यहां पढ़ाने की इच्छा नहीं रखते. स्कूल में बच्चे तो रोज आ जाते हैं, दिनभर बैठकर शिक्षकों का इंतजार करते हैं और छुट्टी के वक्त मायूस होकर घर चले जाते हैं. इसी से परेशान होकर छात्र सड़क पर उतर आए तब उनकी तकलीफ सामने आई. 

चौथम थाना क्षेत्र के जवाहर नगर बोड़ाकोठी के मध्य विद्यालय के छात्र गुरूवार को आक्रोशित होकर सड़क पर उतर आए. विद्यालय की समस्याओं को लेकर छात्रों ने करुआ मोड़ से लेकर बदला पथ तक रोड जाम कर दिया. छात्रों ने शिक्षक के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की. 

अपनी समस्या बताते हुए छात्रों ने कहा कि उनका मध्य विद्यालय खस्ताहाल हालत में है. स्कूल को समय पर खोला नहीं जाता है. अगर स्कूल खुलता है तो समय पर शिक्षक उपस्थित नहीं होते. और अगर शिक्षक आ भी जाएं तो समय से पहले ही निकल जाते हैं. स्कूल में कुर्सी की उपलब्धता नहीं है. ज्यादातर विषयों के या ते टीचर नहीं है या फिर स्कूल ही नहीं आते. गुरूवार को भी मात्र एक शिक्षिका आईं थी जिसके बाद छात्रों का उबाल फूट पड़ा. 

बच्चों ने बताया कि कोरोनाकाल होने के बाबजूद स्कूल में बिल्कुल भी साफ सफाई नहीं होती है. सब जगह गंदगी पसरी रहती है जिससे छात्र कई बीमारियों से संक्रमित हो सकते हैं. यहां खाना नहीं बनता है, मूलभूत सुविधा नहीं है, बाथरूम में ताला बंद रहता है. घटना की जानकारी मिलते ही चौथम बीडीओ मौके पर पहुंचे औऱ छात्रों से खुद बात कर उन्हें शांत कराया. बच्चों को शांत कराकर सड़क जाम हटवाया. 

इसके बाद बच्चों के साथ ही बीडीओ ने खुद स्कूल में जांच की और कार्रवाई शुरू की. उन्होनें स्कूल में मौजूद एकलौती शिक्षिका से पूछताछ की. कई अनुपस्थित शिक्षकों के खिलाफ स्पष्टीकरण का नोटिस जारी करने का आश्वासन दिया.  

Find Us on Facebook

Trending News