पुणे में बिहार की महिला सिपाही की मौत का मामला गहराया, पति ने कहा - चार पुलिसकर्मियों के बीच खुद को पा रही थी असहज

पुणे में बिहार की महिला सिपाही की मौत का मामला गहराया, पति ने कहा - चार पुलिसकर्मियों के बीच खुद को पा रही थी असहज

MUZAFFARPUR : कुछ दिन पहले बिहार के मुजफ्फरपुर जिले की  ब्रह्मपुरा थाना में कार्यरत एक महिला सिपाही की पुणे में बीते दिनों एक होटल के कमरे में हुई मौत हो गई । जिसके बाद  महिला सिपाही का  शव पुलिस लाइन में आते ही माहौल गमगीन हो गया और वहां पर मौजूद मृतका महिला के परिवार ने पुलिस की कार्यशैली पर गंभीर आरोप लगाए । मृतका के पति का कहना है कि उनकी पत्नी कविता सुसाइड नहीं कर सकती है और वो मौत से पहले उसने मुझे फोन किया था और बताया था कि खाना ठीक से नहीं मिल रहा है । मैं 4 पुरुष अफसरों के बीच अकेली महिला हूं और बेहद ही असहज महसूस कर रही हूं।

बता दें कि कविता जिले के ब्रह्मपुरा थाना में तैनात थी और वो ₹96 लाख लूट के केस में जांच के सिलसिले में टीम के साथ पुणे गई थी उसके साथ एसआई ओम प्रकाश समेत चार पुलिस जवान थे । पुणे के होटल में ही उसकी संदिग्ध मौत हुई थी। उसका शव पंखे से लटका मिला था जिसके बाद से पति और उसके पिता ब्रजेश कुमार पुणे पहुंचे तबतक होटल से लाश निकाला जा चुका था और अब देर शाम उसकी लाश लेकर परिजन मुजफ्फरपुर के स्थित पुलिस लाइन पहुंचे । जहां उसे श्रद्धांजलि दी गई SSP जयंतकांत और उनके साथ में भी टाउन DSP रामनरेश पासवान समेत तमाम पुलिस पदाधिकारी मौजूद रहे और श्रद्धांजलि अर्पित किया है।


पिता ने लगाए आरोप

घटना को लेकर पिता ब्रजेश कुमार ने कहा कि हम लोगों को पहले से यह जानकारी थी की  उनकी बेटी कविता बीमार चल रही है और कुछ परेशान थी मौत के कारणों को लेकर हम लोग असमंजस की स्थिति में हैं ।  लेकिन पुलिस वालों ने आश्वासन दिया है कि मामले की जांच करवा रहे हैं।

पति ने कहा- पहुंचने से पहले करवा दिया पोस्टमार्टम

वही मृतका महिला सिपाही कविता के पति का कहना है कि हमलोगों के पहुंचने से पहले पुलिस वालों ने पत्नी के शव को पोस्टमार्टम कराए जाने के लिए भेज दिया था । लेकिन हम लोगों को कोई भी साक्ष देना मुनासिब नहीं समझा । साथ ही उनकी पत्नी डेढ़ माह के गर्भस्थ बच्चे की मां थी और बीमार परेशान थी । उसके बावजूद पुलिस ने इतनी दूर उनको ड्यूटी पर भेज दिया इस मामले की जांच की मांग हम कर रहे हैं। यही नहीं पत्नी की जिस प्रकार मौत हो गई उसे देख कर परिजन दंग हैं । मुजफ्फरपुर पुलिस की कार्यशैली अपने आप में कई गंभीर सवाल पैदा करता है.

पूरी घटना को लेकर मुजफ्फरपुर पुलिस ने चुप्पी साध ली है । हालांकि मामले की जांच आईजी के स्तर के अधिकारियों के आदेश पर पुलिस कर रही है।

Find Us on Facebook

Trending News