सीएम ने डीएम को हटाया, मृतक के भाई के साथ बदसलूकी मामले को लेकर आखिर साहब पर गिर ही गई गाज

सीएम ने डीएम को हटाया, मृतक के भाई के साथ बदसलूकी मामले को लेकर आखिर साहब पर गिर ही गई गाज

NEWS4NATION DESK : भीड़ के बीच अपने संयम नहीं रख पाना और आपा खो देना एक जिलाधिकारी को महंगा पड़ गया। सरकार ने उनपर कार्रवाई करते हुए वेटिंग फॉर पोस्टिंग में डालते हुए उनकी जगह दूसरे की तैनाती कर दी। मामला उत्तर प्रदेश का है। 

यूपी के अमेठी जिले के जिलाधिकारी प्रशांत कुमार शर्मा पर बदसलूकी मामले को लेकर गाज गिरी है। यूपी सरकार ने प्रशांत शर्मा को हटाकर प्रतीक्षारत कर दिया है। वहीं उनकी जगह अरुण कुमार अमेठी के नए डीएम बनाए गए हैं। 

दरअसल बीजेपी नेता के बेटे की हत्या के बाद पोस्टमार्टम के दौरान आक्रोशित भीड़ को समझाने की बजाए डीएम प्रशांत कुमार अपना आपा खो बैठे। इस दौरान उन्होंने आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई और पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह का कॉलर पकड़कर खींचा। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। 

विडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर डीएम को उनके कर्तव्य का एहसास कराया। अपने ट्वीट में स्मृति ईरानी ने डीएम अमेठी को टैग करते हुए लिखा है, "विनयशील एवं संवेदनशील बनें हम यही प्रयास होना चाहिए. जनता के हम सेवक है, शासक नहीं। 

हालांकि डीएम ने अपने द्वारा ऐसी घटना को दिए जाने से इंकार किया है। उन्होंने सांसद स्मृति ईरानी के ट्वीट का रिप्लाई करते हुए एक वीडियो पोस्ट किया है। 

जो वीडियो पोस्ट किया गया है, उसमें जिस सुनील सिंह के साथ बदसलूकी किये जाने की बात सामने आ रही वे कहते दिख रहे हैं, "उन्होंने खबर चलती देखी कि जिसमें दिखाया जा रहा था कि जिलाधिकारी, अमेठी द्वारा मेरे साथ अभद्र व्यवहार किया गया।  जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है. ये एडिटेड वीडियो है. जिलाधिकारी महोदय ने हमारी सारी समस्याओं को बिंदुवार सुना, देखा और हर तरह से जितना भी संभव मदद हो सकती है, आश्वासन दिया।  जिलाधिकारी महोदय से हमारे व्यक्तिगत संबंध हैं और कई वर्षों से रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News