शिक्षकों के लिए सेवा शर्त माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष और महासचिव के संघर्ष का प्रतिफल

शिक्षकों के लिए सेवा शर्त माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष और महासचिव के संघर्ष का प्रतिफल

Patna : जिला परिषद् एवं नगर निकाय के अंतर्गत नियुक्त माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों एवं पुस्तकालयाध्यक्षों के लिए 20 अगस्त 2020 को अधिसूचित सेवा शर्त नियमावली एवं वेतन वृद्धि को लेकर बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ सारण इकाई के शिक्षक प्रतिनिधियों की बैठक संघ भवन छपरा के सभागार में हुई।

बैठक में सेवा शर्त नियमावली की विशेषताओं एवं खामियों पर विभिन्न वक्ताओं ने प्रकाश डाला। इस दौरान वक्ताओं ने सरकार द्वारा लाए गए सेवा शर्त को संघ के अध्यक्ष केदार पांडेय और महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद के संघर्ष का प्रतिफल बताया। 


वक्ताओं ने कहा कि  20 वर्षों की सेवा अनुभव के बदले माध्यमिक शिक्षकों के लिए 10 वर्ष तथा उच्च माध्यमिक शिक्षकों के लिए 6 वर्ष की सेवा अनुभव के आधार पर प्रधानाध्यापक के पद पर प्रोन्नति, 4 वर्ष की सेवा उपरांत योग्यताधारी माध्यमिक शिक्षकों का उच्च माध्यमिक शिक्षक के 50% पदों पर प्रोन्नति ,दिव्यांग एवं महिला शिक्षकों का नियोजन इकाई के बाहर दूसरे इकाई एवं जिले में स्थानांतरण की सुविधा,180 दिन मातृका अवकाश 15 दिन पितृकावकाश, अर्जित अवकाश 11 दिन वार्षिक और 120 दिन संचयी , शिक्षक के आश्रितों को योग्यतानुसार शिक्षक, लिपिक एवं चतुर्थ वर्ग कर्मचारी के पद पर अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति, ईपीएफ की सुविधा, सेवानिवृत्ति उपरांत सुरक्षा हेतु इपीएफ तथा 1 अप्रैल 2020 से 15% वेतन वृद्धि का लाभ मिलना बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडे एवं महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह के कुशल नेतृत्व में शिक्षकों के आंदोलन एवं संघर्ष का प्रतिफल बताया। 


वहीं वक्ताओं ने संघ के 7 सूत्री मांगों में से सरकार के द्वारा कटौती की गई है उसपर एतराज़ जताया। बैठक में 10,20   और30 वर्षों की सेवा पर एसीपी, पुरुष शिक्षकों को भी अंतर इकाई एवं अंतर जिला स्थानांतरण, वेतनमान लेवल 7और लेवल 8, सेवा निरंतरता का भूतलक्षी प्रभाव से लाभ तथा राज्य कर्मी का दर्जा सहित अन्य सुविधाओं का प्रावधान सेवा शर्त नियमावली में शामिल कराने हेतु  सरकार से मांग की गई। साथ ही शिक्षक प्रतिनिधियों ने बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव मंडल की बैठक के बाद अध्यक्ष एवं महासचिव के हस्ताक्षर से मुख्यमंत्री के समक्ष मजबूती के साथ त्वरित गति से सेवा शर्त में संशोधन एवं अन्य मांगों के लिए ज्ञापन सौंपने को एक अच्छा कदम बताया। 

इस बैठक में विचार व्यक्त करने वालों में प्रमुख रूप से नागेंद्र प्रसाद सिंह,अनुमंडल सचिव सुजीत कुमार, कुमार अर्णज , रईसुउल एहरार खान, डॉक्टर सत्येंद्र पांडे, डॉ विनोद कुमार सिंह, प्रकाश कुमार सिंह, डॉ रजनीश कुमार, अरुण मिश्रा, श्याम तिवारी, गोपेंद्र कुमार, धीरज कुमार, स्नेह लता  आदि थे। बैठक की अध्यक्षता ए आई एस टी एफ के विजय कुमार सिंह ठाकुर तथा  संचालन परीक्षा सचिव विद्यासागर विद्यार्थी ने किया।

Find Us on Facebook

Trending News