अपने ही कार्यकर्ताओं पर जबरदस्त भड़के कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष, कहा समय आने पर लूंगा हिसाब

अपने ही कार्यकर्ताओं पर जबरदस्त भड़के  कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष,  कहा समय आने पर लूंगा हिसाब

NEWS4NATION DESK : कार्यकर्ताओं और नेताओं की भीड़ होने और अफरा-तफरी देखकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया।उन्होंने माइक अपने हाथ में लेते हुए जनता से मंच पर खड़े सभी नेताओं को पहचानने को कहा और यह हिदायत दी कि जितने कार्यकर्ता खुद को बड़ा नेता समझते हुए मंच पर चढ़े हैं, उनके बूथों पर कांग्रेस उम्मीदवारों को मिले वोटों का हिसाब लिया जाएगा।

दरअसल अभिनेता से नेता बनेयूपी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर बुधवार को प्रयागराज के मुस्लिम बाहुल्य इलाके रोशनबाग में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे। इस दौरान मंसूर पार्क के बाहर बने मंच पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और नेताओं की भीड़ होने और अफरा-तफरी देखकर राज बब्बर भड़क उठे। 

 राज बब्बर जब मंच पर पहुंचे तो देखा कि सभी छुटभैय्या नेता मंच पर खड़े हैं और किसी दूसरे के खड़े होने की गुंजाइश तक नहीं हैं। राज बब्बर ने पहले अपने लिए मंच पर जगह बनाई फिर उन्होंने माइक अपने हाथ में लेते हुए जनता से मंच पर खड़े सभी नेताओं को पहचानने को कहा और यह हिदायत दी कि जितने कार्यकर्ता खुद को बड़ा नेता समझते हुए मंच पर चढ़े हैं, उनके बूथों पर कांग्रेस उम्मीदवारों को मिले वोटों का हिसाब लिया जाएगा।
 
 फूलपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस और अपना दल कृष्णा पटेल गुट के प्रत्याशी पंकज निरंजन के समर्थन में चुनावी सभा करने पहुंचे राज बब्बर ने कांग्रेसियों को मंच से ही फटकार लगाई। उन्होंने पार्टी के बड़े नेताओं तक का नाम लेकर उन्हें मंच पर ही बैठ जाने को कह दिया। राज बब्बर की नाराजगी के बाद पार्टी के ज्यादातर पार्टी पदाधिकारी मंच से उतर गए लेकिन उसके बाद भी छुटभैय्या नेता मंच पर ही डटे रहे। जिसके बाद राज बब्बर ने अपना संबोधन शुरू किया। 

राज बब्बर ने देश की तरक्की और खुशहाली के लिए जहां कांग्रेस प्रत्याशी को वोट देने और राहुल गांधी को पीएम बनाने की अपील की। वहीं, संसद के आखिरी दिन पीएम मोदी को दोबारा पीएम बनने की बधाई देने वाले समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव का नाम लिए बिना उन पर भी तंज कसा। राज बब्बर ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'बीजेपी हिंदुओं और मुसलमानों दोनों को डराकर वोट हासिल करना चाहती है। कौन देशभक्त है और कौन नहीं है। इसका सर्टिफिकेट बीजेपी से लेने की किसी को जरूरत नहीं है।

हालांकि जनसभा में भीड़ कम होने और कार्यकर्ताओं की धमाचौकड़ी के बीच राज बब्बर ने सिर्फ 12 मिनट ही भाषण दिया।

Find Us on Facebook

Trending News