कोर्ट ने लगाई सीएम भगवंत मान की क्लास तो पंजाब में 424 VIP लोगों की फिर हो गई सुरक्षा बहाल

कोर्ट ने लगाई सीएम भगवंत मान की क्लास तो पंजाब में 424 VIP लोगों की फिर हो गई सुरक्षा बहाल

पटना. पंजाब में पूर्व विधायकों, दो तख्तों के जत्थेदारों, डेरा प्रमुखों और पुलिस अधिकारियों समेत कुल 424 लोगों की सुरक्षा वापस लेने के सीएम भगवंत मान सरकार के आदेश पर कोर्ट ने क्लास लगाई है. इसके बाद फिर से सभी की सुरक्षा बहाल कर दी गई है. पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद उनकी सरक्षा हटाये जाने के मुद्दे पर आप की भगवंत मान सरकार बैकफुट पर है. अब कोर्ट ने 424 लोगों की सुरक्षा फिर बहाल करने का फैसला किया है.

 7 जून से उन सभी की सुरक्षा फिर बहाल हो जायेगी. पंजाबी सिंगर की उनकी हत्या से एक दिन पहले ही पंजाब सरकार ने 424 लोगों की सुरक्षा वापस ली थी. लेकिन अब कोर्ट द्वारा पंजाब सरकार को फटकार पड़ी है. इस बात पर भी नाराजगी जताई गयी है कि सुरक्षा वापस लेने वाली लिस्ट लीक कर कैसे कर दी गयी . 

हालांकि सरकार ने कहा कि सीमित अवधि के लिए सुरक्षा व्यवस्था हटाई गयी थी, लेकिन कोर्ट ने साफ कर दिया है कि किसी की सुरक्षा को हटाना भी है तो पहले परिस्थितियों की सही समीक्षा की जाये, सभी पहलुओं पर मंथन हो, उसके बाद ही ऐसा कोई फैसला हो. 

जिन लोगों से पुलिस सुरक्षा वापस ली गई, उनमें आनंदपुर साहिब जिले में तख्त केसगढ़ साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह, जालंधर में डेरा सचखंड बल्लां के प्रमुख संत निरंजन दास, भैनी साहिब, लुधियाना के सतगुरु उदय सिंह नामधारी, अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के प्रमुख ग्रंथी ज्ञानी जगतार सिंह शामिल हैं।  जगराओं के गुरुद्वारा नानकसर कलेरां वाले के बाबा लाखा सिंह और जालंधर में कहना ढेसियां, गोराया के डेरा प्रमुख संत तरमिंदर सिंह की सुरक्षा भी वापस ले ली गयी है। 

डेरा राधा स्वामी सत्संग ब्यास के 10 पुलिसकर्मियों, डेरा दिव्य ज्योति जागृति संस्थान, नूरमहल के नौ पुलिसकर्मियों और शाही इमाम पंजाब, मोहम्मद उस्मान लुधियानवी की सुरक्षा के लिए तैनात छह पुलिसकर्मियों को भी हटा लिया गया है। 

जिन विधायकों की सुरक्षा वापस ली गई, उनमें मजीठा सीट से शिरोमणि अकाली दल की विधायक गनीवे कौर मजीठिया, जालंधर छावनी से कांग्रेस विधायक परगट सिंह और लुधियाना उत्तर से आम आदमी पार्टी के विधायक मदन लाल बग्गा भी शामिल हैं।  कांग्रेस के पूर्व विधायक कुलजीत सिंह नागरा, बलविंदर सिंह लड्डी, हरमिंदर गिल, मदन लाल जलालपुर, सुरजीत धीमान, हरदयाल कंबोज और सुखपाल भुल्लर के अलावा भारतीय जनता पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के पूर्व विधायक दिनेश बब्बू, शरणजीत सिंह ढिल्लों, कंवरजीत सिंह और गुरप्रताप सिंह वडाला की सुरक्षा भी वापस ले ली गयी. 

हालांकि अब इन सभी लोगों की सुरक्षा फिर से बहाल हो जाएगी. 


Find Us on Facebook

Trending News