बेटी के जन्म पर ससुराल में हुआ ऐसा स्वागत कि बहू को हुआ खुद पर नाज, कहा – ‘लाडो इस देश में ऐसे आंगन में जरूर आना’

बेटी के जन्म पर ससुराल में हुआ ऐसा स्वागत कि बहू को हुआ खुद पर नाज, कहा – ‘लाडो इस देश में ऐसे आंगन में जरूर आना’

KATIHAR : मेरा देश बदल रहा है,सच में कल तक जो रूढ़िवादी समाज बेटियों के जन्म पर सवाल उठाते थे और ताने मारते थे आज उसी समाज से एक ऐसा तस्वीर सामने आयी है जो बदलते बिहार में महिला सशक्तिकरण का नारा कितना बुलंद हुआ है उसे कुछ हद तक साबित करने के लिए एक बेहतर नजीर बन सकता है। हर दिन दहेज के बलि बेड़ियों में चढ़ते महिलाओं की खबर से आगे आज हम बिहार के सबसे पिछड़े सीमांचल इलाका कटिहार के कोढ़ा विधानसभा से एक ऐसी खबर से आपको रूबरू करवा रहे हैं जिसे सुनकर और देख कर आप भावुक हो जाएंगे। यहां एक परिवार में बेटी के जन्म की  खुशी में पुत्रवधू और पौत्री को डोली में बैठाकर ससुराल लाया गया। ससुराल में मिली ऐसी स्वागत के बाद पुत्रवधू भी बेहद भावुक नजर आई। इस दौरान पूरा माहौल एक उत्सव के रूप में नजर आया। 

बेटी का जन्म खुशी मनाने का दिन

अपनी घर में बेटी के आने से बेहद खुश दिख रहे  सुमन कुमार मिश्रा ने बताया कि  सरकार जो बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा बुलंद कर रहे हैं, वह इसी संदेश को आगे बढ़ाना चाहते हैं, उन्होंने कहा कि इस अनोखे अंदाज में स्वागत के पीछे उनका मकसद यह है की समाज में भ्रूण हत्या जैसे अपराध को रोका जा सके। उन्होंने बताया कि वह इस दिन को खास बनाना चाहते थे। इसलिए सोने के रंगोंवाली पालकी में बहू को घर लाने की तैयारी की।

बहू ने कहा - ऐसे आंगन में जरूर आना लाडो

ससुराल में इस तरह अपने स्वागत को लेकर बहू स्नेहा ने कहा कि उन्हें इस बात की उम्मीद नहीं थी ससुराल में ऐसा स्वागत होगा। स्नेहा कहती है कि हर किसी को ऐसा ससुराल और हर बच्ची को ऐसे सोच रखने वाले परिजनों का अगर आशीर्वाद मिले तो सच में हर कोई यही कहेंगे कि बार-बार लाडो इस देश में ऐसे आंगन में जरूर आना

Find Us on Facebook

Trending News