गंगा नदी किनारे बसे पवित्र मनिहारी घाट में छोड़ा जा रहा है पूरे इलाके का गंदा पानी, लोगों ने कहा - हालात नहीं सुधरे तो करेंगे सत्याग्रह

गंगा नदी किनारे बसे पवित्र मनिहारी घाट में छोड़ा जा रहा है पूरे इलाके का गंदा पानी, लोगों ने कहा - हालात नहीं सुधरे तो करेंगे सत्याग्रह

KATIHAR : कटिहार में मनिहारी गंगा तट और गंगा नदी को स्वच्छ रखने के लिए मनिहारी नागरिक संघर्ष समिति के बैनर तले बड़ी संख्या में लोगों ने जल सत्याग्रह कर प्रशासन को चेताया, नागरिक संघर्ष समिति के संयोजक अंगद ठाकुर ने कहा कि पूरे मनिहारी से निकलनेवाला गंदा पानी गंगा घाट में समा रहा है।  लोगों का कहना है कि प्रशासन की तरफ से घाट पर नाला बना कर जैसे तैसे हालत में छोड़ दिया गया है। ऐसे में महापर्व छठ से पहले दूरदराज से  गंगा नहाने के लिए आने वाले छठ व्रत करने वाले लोग और अन्य लोगों को भी इसी गंदे पानी में नहाना पड़ेगा।

सत्याग्रह की दी चेतावनी

 इसी के विरोध में नागरिक संघर्ष समिति से जुड़े हैं बड़ी संख्या में लोग गंगा में उतर कर जल सत्याग्रह के माध्यम से जल्द इस हालात के निदान की मांग कर रहे हैंं। वही विरोध प्रदर्शन कर रहे दीपक पोद्दार ने कहा कि मनिहारी घाट सिर्फ छठ के लिए ही नहीं बल्कि साल भर इस घाट में अन्य जिला एवं अन्य प्रदेश से लोग आते हैं। ऐसे में इस घाट को स्वच्छ सुंदर बनाने के साथ-साथ स्थाई रूप से वस्त्र बदलने और शौचालय की व्यवस्था होनी चाहिए।

नमामि गंगे प्रोजेक्ट का असर नहीं

 कुल मिलाकर एक तरफ सरकार जहां  गंगा के निर्मल धारा को अविरल रखने के लिए नमामि गंगे योजना पर जोर दे रहे हैं, लेकिन मनिहारी में इसका असर नजर नहीं आता है।  वहीं आम लोगों के द्वारा गंगा के सफाई पर यह गंभीरता भारत के सबसे प्राचीन नदी के प्रति आस्था के साथ साथ इलाके के लिए विकास के दृश्टिकोण से मील का पत्थर साबित हो सकता है।


Find Us on Facebook

Trending News